Home   »   SBI PO Prelims Cut Off Trend...

SBI PO Prelims Cut Off Trend 2022 (2017-2021): जानें SBI PO प्रीलिम्स के पिछले पांच सालों में क्या रहा है कट ऑफ का ट्रेंड

SBI PO Prelims Cut Off Trend of Last 5 Years (2017-2021): जैसा कि आप सभी जानते है SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा 17, 18, 19 और 20 दिसंबर 2022 को होने वाली है. SBI PO प्रीलिम्स पिछले 5 वर्षों यानि 2017 से 2021 तक के कट ऑफ ट्रेंड के बारे में जानने से उम्मीदवारों को पिछले 5 वर्षों के कट ऑफ रिलीज के बारे में आईडिया मिलेगा. कट ऑफ ट्रेंड में, उम्मीदवार प्रत्येक सेक्शन के साथ-साथ समग्र रूप से जारी कट ऑफ का विश्लेषण और तुलना कर सकते हैं. इससे उन्हें इसका पता लगेगा कि उन्हें कम से कम कितने मार्क्स लाने जरूरी हैं ताकि वे मेंस परीक्षा में बैठने के लिए Eligible हों.

 

SBI PO के लिए सिलेक्टेड होने के लिए उम्मीदवारों को कट-ऑफ अंकों से अधिक के लिए प्राप्त करने होंगे. अब वे सभी उम्मीदवार जो आगामी SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा में शामिल होंगे और पिछले सालों के SBI PO प्रीलिम्स के कट-ऑफ ट्रेंड के बारे में जानते चाहते, वे नीचे इस आर्टिकल में SBI PO प्रीलिम्स कट ऑफ ट्रेंड के बारे पढ़ सकते है. 

SBI PO Prelims Cut Off Trend of Last 5 Years (2017-2021)

SBI PO प्रीलिम्स कट ऑफ ट्रेंड सभी उम्मीदवारों को आगामी SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा के कठिनाई स्तर और परीक्षा की प्रतियोगिता (Difficulty Level, and the Competition of the Examination) को समझने में मदद करेगा. SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा में तीन सेक्शन यानि अंग्रेजी, रीजनिंग एबिलिटी और क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड होंगे, जो कुल 100 अंकों के होंगे। इस आर्टिकल में, हम आपको 5 वर्षों से चल रहे कट-ऑफ ट्रेंड की सटीक जानकारी देने के लिए पिछले पांच वर्षों की SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा के कट-ऑफ ट्रेंड प्रदान कर रहे हैं.

SBI PO Admit Card 2022 in Hindi

SBI PO Prelims Cut Off Trend for Last 5 Years

उम्मीदवार नीचे दी गई टेबल में देख सकते हैं कि एसबीआई पीओ प्रीलिम्स कट ऑफ 2016 से बढ़ रहा था, लेकिन साल 2020 में घट गया, जिसका अर्थ है कि कट ऑफ कई कारकों के अनुसार भिन्न हो सकता है जैसे कठिनाई स्तर, रिक्तियों की संख्या, आदि.

SBI PO Prelims Cut Off Trend for Last 5 Years
Category 2021 2020 2019 2018 2017
General 63 58.5 71 56.75 51.5
SC 54.75 50 61.75 49 43.25
ST 54.75 43.75 54.75 43 31.25
OBC 61.25 56 68.25 54.25 48.25
EWS 62.75 56.75 68.25
SBI PO Prelims Cut Off Trend 2022 (2017-2021): जानें SBI PO प्रीलिम्स के पिछले पांच सालों में क्या रहा है कट ऑफ का ट्रेंड |_50.1

SBI PO Prelims Cut Off: Factors that Decide the Cut off

कट ऑफ तय करने वाले फैक्टर (Factors That Decide the Cut Off):-

  • रिक्तियों की संख्या (Number of Vacancies): यह फैक्टर SBI PO भर्ती के लिए एसबीआई द्वारा जारी रिक्तियों की कुल संख्या को प्रभावित करता है. रिक्तियों में बढ़ोतरी या कमी कट-ऑफ में वृद्धि-गिरावट और प्रभाव डाल सकती है.
  • कठिनाई स्तर (Level Of Difficulty): दूसरा सबसे प्रमुख कारक परीक्षाओं का कठिनाई स्तर है. जब परीक्षा आसान लगती है, तो कट-ऑफ बढ़ जाती है, और साथ ही साथ जितनी अधिक परीक्षा कठिन होगी, उतनी ही कम कट-ऑफ भर्ती बोर्ड द्वारा जारी की जाएगी.
  • परीक्षा में उपस्थित होने वाले छात्रों की संख्या (Number of Candidates Attempt Exam): परीक्षा में उपस्थित होने वाले उम्मीदवारों की संख्या भी कट-ऑफ को प्रभावित करने वालों कारको में से एक है.

SBI PO Prelims Cut Off Trend 2022 (2017-2021): जानें SBI PO प्रीलिम्स के पिछले पांच सालों में क्या रहा है कट ऑफ का ट्रेंड |_60.1

SBI PO Admit Card 2022: Preparation Strategy

SBI PO को बैंकिंग क्षेत्र की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक माना जाता है, इसलिए उम्मीदवारों को इसके लिए पूरे समर्पण के साथ तैयारी करनी चाहिए। विशेषज्ञ संकाय सदस्यों के मार्गदर्शन में तीनों वर्गों के लिए उम्मीदवारों द्वारा एक उचित तैयारी रणनीति का पालन किया जाना चाहिए। उम्मीदवारों को उन विषयों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए और अधिक समय देना चाहिए जिनमें वे कमजोर हैं और नियमित अंतराल पर अपने मजबूत विषयों का रिवीजन करना चाहिए। प्रत्येक दिन उम्मीदवारों को नवीनतम पैटर्न के प्रश्नों का अभ्यास करना चाहिए और अपनी स्पीड और एक्यूरेसी का एनालिसिस करना चाहिए।

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *