SBI और IBPS इंटरव्यू 2021: करेंट अफेयर्स स्पेशल सीरीज़- चीन फिर बना भारत का टॉप ट्रेड पार्टनर (China Regains Top Trade Partner to India)

SBI और IBPS इंटरव्यू 2021: करेंट अफेयर्स स्पेशल सीरीज़- चीन फिर बना भारत का टॉप ट्रेड पार्टनर (China Regains Top Trade Partner to India)


China Regains Top Trade Partner to IndiaAdda247 ने SBI और IBPS इंटरव्यू 2021 देने वाले सभी उम्मीदवारों के एक नई कर्रेंट अफेयर्स स्पेशल सीरीज़ की शुरुआत की है, इस सीरीज़ में, रोज़ाना (daily basis) पर Candidates को SBI और IBPS इंटरव्यू 2021 के लिए महत्वपूर्ण कर्रेंट अफेयर्स के टॉपिक्स में किसी एक टॉपिक के बारे में Detailed information दी जाएगी, जिससे न केवल उनकी जनरल अवेयरनेस में सुधार होगा, बल्कि उम्मीदवारों इंटरव्यू में कर्रेंट अफेयर्स विषय से पूछे जाने वाले सवाल का जवाब Confident के साथ दे सकेगे. इसी कड़ी में आज का हमारा कर्रेंट अफेयर्स टॉपिक है- चीन फिर बना भारत का टॉप ट्रेड पार्टनर (China Regains Top Trade Partner to India)यदि आप किसी Goverment Bank Job में जाना चाहते है तो ये बहुत ही जरुरी हो जाता है कि आपको - भारत-चीन के व्यापारिक संबंधों (Indo-China Trade Relation) के बारे में अच्छी Knowledge हो. इस आर्टिकल में आगे भारत-चीन के व्यापारिक संबंधों (Indo-China Trade Relation) से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी यानी बेसिक फैक्ट्स पर चर्चा करेंगे.



चीन फिर बना भारत का टॉप ट्रेड पार्टनर


भारत कई देशों जैसे अमेरिका, चीन आदि के साथ अंतर्राष्ट्रीय व्यापार करता है। भारत और चीन के बीच व्यापार पिछले साल 77.7 बिलियन अमेरिकी डॉलर का हुआ जिससे चीन फिर से भारत का टॉप trade partner यानि सबसे बड़ा व्यापरिक साझेदार बन गया है। 


भारत चिकित्सा के क्षेत्र में उपकरणों और दवाइयों के निर्माण के लिए चीन आधारित समान पर बहुत अधिक निर्भर है। यह आकड़ा पिछले वर्ष के 85.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर से कम है लेकिन प्रथम स्थान के लिए पर्याप्त था। इसके पहले अमेरिका के साथ व्यापार 75.9 बिलियन अमेरिकी डॉलर के साथ प्रथम पर था। 


Covid-19 महामारी के कारण भारत ने आयात कम कर दिया था। भारत सरकार ने कुछ Chinese App को भी प्रतिबंधित कर दिया था। इस दौरान भारत में local production को बढ़ावा मिला तथा PLI को प्रोत्साहन मिला। इस प्रकार मेक इन इंडिया को बढ़ावा मिलेगा तथा आत्मनिर्भर बनाने की ओर काम होगा। 


भारत में चीन आधारित telicom equipment और घरेलु उत्पाद का आयात ज्यादा होता है। भारत और चीन के बीच कुछ सीमा संबंधी समस्याएं हुई। गलवान घाटी के कारण यह चर्चा में रहा। 


भारत और अमेरिका के बीच व्यापार में भारत निर्यात ज्यादा करता है जबकि आयात कम परन्तु चीन के साथ निर्यात कम आयात ज्यादा होता है।

 

  • चीन प्रेसिडेंट- शी जिनपिंग
  • चीन राजधानी- बीजिंग
  • मुद्रा- चायनीज युआन


इससे  पहले कवर किये गये टॉपिक्स : 



 अगर आप मेन्स परीक्षा क्लियर कर चुके हैं और अब IBPS या SBI का इंटरव्यू देने वाले उम्मीदवार है, तो adda247 के इस नई पहल Current Affair Special Series के साथ जुड़े रहें और खुद को अपडेट रखें.