Bank Cheques : बैंक चेक के प्रकार और features

Bank Cheques : बैंक चेक के प्रकार और features



Bank Cheques and its features in hindi

Bank exam 2020 की प्रिपरेशन करने वाले उम्मीदवारों को Banking Sector से जुड़े विभिन्न पहलुओं को जानकारी होनी चाहिए. बैंक परीक्षाओं को क्रैक करने के लिए जरुरी है कि जनरल अवेयरनेस सेक्शन में अच्छा प्रदर्शन करें, जिसमें बैंकिंग क्षेत्र से सम्बंधित प्रश्न भी पूछे जाते हैं. इंटरव्यू के दौरान भी आपसे बैंकिंग से जुडी विभिन्न जानकारियां पूछी जाती हैं. इसके साथ है आज के समय में बैंकिंग अर्थव्यवस्था का आधार है और चेक का प्रयोग खाता धारक अपनी सुविधा के अनुसार करते हैं. ऐसे में यह जरुरी है कि सभी की चेक से सम्बंधित बेशक नॉलेज हो. hindi.bankersadda.com बैंक से जुड़े विभिन्न पहलुओं की जानकारी को आप तक हिंदी में पहुंचता है, जिससे हिंदी भाषी लोग बैंक और उससे सम्बंधित जानकारियों को आसानी से समझ सकें. इस लेख के  माध्यम से हम विभिन्न प्रकार के चेक और उनकी विशेषता(Bank Cheques and features) के बारे में जानेंगे.





चेक बैंक द्वारा प्रदान की जाने वाली एक सुविधा है. जिसके माध्यम से आप बिना बैंक से नकद निकाले पैसों का भुगतान किसी व्यक्ति या संस्था को कर सकते हैं. यह एक शर्त रहित प्रदान किया  जाने वाला आज्ञा पत्र  है, जिसमें भुगतान करने वाले व्यक्ति के हस्ताक्षर होते हैं और इसमें लिखित निश्चित राशि को, किसी व्यक्ति या संस्था को देने का आदेश देता है.  जो व्यक्ति चेक जारी करता है, उसे drawer कहा जाता है, और जिस व्यक्ति को यह जारी किया जाता है, वह drawee है. चेक का एक अन्य लाभ यह है कि अगर आप कभी भुगतान भविष्य की किसी तिथि को करना चाहते है, तो वह भी कर सकते हैं.


अगर भारतीय विनिमय साध्य विलेख अधिनियम, 1881 की धारा 6 में चेक की परिभाषा इस प्रकार दी गई है"चैक एक ऐसा विनिमय-विपत्र है जो किसी निर्दिष्ट बैंक पर आहरित किया जाता है और जो माँग पर देय होने के अतिरिक्त किसी अन्य प्रकार से देय घोषित नहीं होता है."

इंग्लैण्ड के ‘Bill of Exchange Act’ की धारा 73 में चेक की परिभाषा इस प्रकार दी गई है – "चैक बैंकर पर लिखा हुआ माँग पर देय विनिमय-विपत्र होता है."

चेक विभिन्न प्रकार के होते हैं, जिनमें से कुछ सामान्य तौर पर प्रयोग होने वाले चेक इस प्रकार हैं - Types of Bank Cheques:

Bearer Cheque -धारक चेक/ खुला चेक
बियरर चेक वह चेक होता है जो चेक के वाहक को देय होता है या जिसका नाम चेक पर लिखा होता है. बियरर चेक में बिंदीदार रेखाओं के अंत में "or bearer" छपा होता है, जिसका अर्थ drawee के नाम से है. इस चेक की यह विशेषता है कि इसे ड्रेव बैंक के काउंटर पर प्रस्तुत किया जा सकता है और इसे प्रस्तुत करने वाले के लिए देय है. यह एक आसान transferable साधन है और इस प्रकार मात्र वितरण द्वारा दूसरे को पारित किया जा सकता है. इसीलिए इन चेक को सुरक्षित नहीं माना जाता है. क्योंकि चोरी हो जाने पर कोई अन्य व्यक्ति उस चेक के माध्यम से पैसे निकाल सकता है.
What are the Different types of Cheques in India? - ask.CAREERS
Image Source: ask.careers


Order Cheque- आर्डर चेक
Order cheque से तात्पर्य उस चेक से है जिसमें मुद्रित शब्द "bearer" को रद्द कर दिया गया है, जिससे यह केवल उस व्यक्ति को देय हो सकता है जिसका नाम drawee की जगह लिखा गया है. एक बार जब drawer ने चेक पर "bearer" को canceled कर दिया, तो यह स्वचालित रूप से समझ में आ जाता है कि यह एक ऑर्डर चेक है और बैंक को केवल एक बार लेन-देन पूरा करने के लिए निर्देशित किया जाता है कि वे पहचान कर चुके हैं, उनकी संतुष्टि के लिए, चेक का वाहक वही व्यक्ति है, जिसका नाम चेक पर लिखा हुआ है. 
Order Cheque | An order cheque is when the word 'bearer' is … | Flickr
Image Source: flickr.com



Crossed Cheque- क्रॉस्ड चेक / अकाउंट पेयी चेक
क्रॉस्ड चेक उस चेक को संदर्भित करता है जिसमें ड्रॉअर चेक के ऊपरी बाएं कोने में दो समानांतर अनुप्रस्थ रेखाएं(two parallel transverse lines) बनाता है.  वह "a/c payee" का उल्लेख कर सकता है या नहीं कर सकता है. ऐसा करने से, यह सुनिश्चित हो जाता है कि ड्रॉअर बैंक को चेक प्रस्तुत करने वाला कोई भी व्यक्ति क्यों न हो, लेनदेन केवल चेक में नामित व्यक्ति के खाते में किया जाता है. इस प्रकार के चेक को सुरक्षित माना जाता है क्योंकि यह अनधिकृत व्यक्ति को दिए जा रहे धन के जोखिम को कम करता है क्योंकि इस प्रकार के चेक से केवल drawee’s bank में ही भुगतान होता है. 
What is the difference between a bearer cheque and a crossed ...
Image Source: Quora

Also check,



Post- Dated Cheque - आगे की तारीख वाला चेक
एक चेक Post Dated Cheque के रूप में संदर्भित करता है, जब चेक जारी करने के बाद की तारीख को वहन किया जाता है. व्यक्ति इस चेक को किसी भी समय बैंक में प्रस्तुत कर सकता है लेकिन उल्लिखित तिथि से पहले कोई लेनदेन नहीं होगा. यदि आप चेक पर दी गई तारीख के बाद इस चेक को प्रस्तुत करते हैं, तो यह अभी भी मान्य होगा और आप अभी भी भुगतान कर सकते हैं


Stale Cheque
बाधित चेक से तात्पर्य उस चेक से है जिसका validity period समाप्त हो गया है. पहले  चेक वैधता अवधि 6 माह थी, जिसे घटा कर 3 महीने कर दिया गया है. इसके बाद चेक के माध्यम से भुगतान नहीं किया  जायेगा.


Travelers’ Cheque

यात्रियों के चेक को Travelers' Cheque कहा जाता है या universally accepted currency के बराबर होता है. यह  लगभग हर जगह उपलब्ध है और various denominations में आता है. यह चेक बैंक द्वारा एक स्थान से दूसरे स्थान पर भुगतान करने के लिए जारी किए गए एक साधन के रूप में कार्य करता है. इस चेक का अभिप्राय यह है कि travelers’ cheque की कोई समाप्ति तिथि नहीं है और इस प्रकार इसका उपयोग आपकी अगली यात्रा के दौरान भी किया जा सकता है, या आपके पास भारत में वापस आने के बाद इसे encash करने का विकल्प है.
An image of American Express Travelers Cheque template | Download ...Image Source: researchgate.net


यह भी देखें - 




Self Cheque
सेल्फ चेक वह cheque होता है, जहां drawer आमतौर पर अपने लिए सेल्फ चेक जारी करता है. नाम कॉलम "स्व" शब्द द्वारा भरा जाना चाहिए. कोई भी व्यक्ति अपने उपयोग के लिए नकद बैंक से पैसे निकालने के लिए  सेल्फ चेक जारी कर सकता है. एक स्व चेक केवल खाताधारक या ड्रॉअर के बैंक में एन्कोड किया जा सकता है. इस चेक के साथ सावधानी बरतना महत्वपूर्ण है जैसे कि यह खो गया हो, दूसरा व्यक्ति ड्रॉअर के बैंक में जाकर इसे आसानी से प्राप्त कर सकता है.
How To Fill SBI Cheque Book For Self Withdrawal
Image Source: bankindia.org



Mutilated Cheque
Mutilated Cheque उस चेक को संदर्भित करता है जिसे दो टुकड़ों में काटा जाता है या mutilted. इस प्रकार के चेक मामले में, बैंक तब तक भुगतान नहीं करता है जब तक कि उन्हें drawer से confirmation नहीं मिलती है.

Difference Between Stale Cheque and Post-Dated Cheque (with ...
Image Source: keydifference.com