23/12/2017

IBPS SO Rajbhasha Adhikari 2018 Professional knowledge Quiz

IBPS SO राजभाषा अधिकारी 2018 के लिए हिंदी प्रश्नोत्तरी 

प्रिय पाठकों !!



IBPS SO राजभाषा अधिकारी की अधिसूचना जारी की जा चुकी है. IBPS SO राजभाषा अधिकारी के परीक्षा प्रारूप के अनुसार व्यावसायिक ज्ञान के पाठ्यक्रम के आधार पर हम यहाँ हिंदी की प्रश्नोत्तरी प्रदान कर रहे हैं. प्रति दिन इस QUIZ का अभ्यास कीजिए तथा IBPS SO 2018 के पाठ्यक्रम के अनुसार अध्ययन कीजिए. अपनी तैयारी को गति प्रदान करते हुए अपनी सफलता सुनिश्चित कीजिये...


निर्देश(1 से 5):- में दिए गये वाक्यों में से कुछ त्रुटियां हैं और कुछ ठीक हैं। त्रुटि वाले वाक्य के जिस भाग में त्रुटियां हों, उसके अनुरूप अक्षर (a, b, c,d) का चयन करें। यदि वाक्य में कोई त्रुटि न हो, तो आपका उत्तर e होगा। 

1. (a) भारत कृषि प्रधान देश है /(b) उसकी हरियाली बहुत आकर्षक है /(c) क्योंकि यहाँ हरे-भरे /(d) वन सर्वत्र मिलते हैं /(e) कोई त्रुटि नहीं। 
2. (a) गंगा और यमुना /(b) वैसी पावन नदियाँ /(c) अब मलिन /(d) हो गई हैं /(e) कोई त्रुटि नहीं। 
3. (a) मैंने यमुना में खूब तैरा /(b) और डूबा नहीं /(c) क्योंकि /(d) मैं तैरना जानता था /(e) कोई त्रुटि नहीं। 
4. (a) प्रतिष्ठित समाज-सेवी की मृत्यु से /(b) नगर में भीषण शोक छा गया /(c) लोग अपने अश्रु /(d) रोक नहीं पा रहे थे /(e) कोई त्रुटि नहीं।
5. (a) मैं यह पत्र लिखने के पक्ष में नहीं थी /(b) परन्तु उनके घोर आग्रह करने पर /(c) मुझे यह पत्र लिखना /(d) पड़ रहा है /(e) कोई त्रुटि नहीं। 

निर्देश (प्रश्न 6 से 10) :  निम्नलिखित प्रश्नों में गद्यांशों पर आधारित प्रश्न दिए गए हैं। गद्यांशों को ध्यान से पढ़िए तथा प्रत्येक प्रश्न के उत्तर के लिए दिए गए पांच विकल्पों में से उचित विकल्प का चयन कीजिए।
          प्रत्येक युग के महान विचारकों ने धन-संग्रह की प्रवृत्ति की निदा की है। धन को इसलिए हेय दृष्टि से देखा जाता है कि गर्व, आलस्य तथा अन्य अवगुण इसका अनुसरण करते हैं। निस्सन्देह हम सामान्यतः यह देखते हैं कि मनुष्य जितना ही धनी होता है उतना ही पुण्य अथवा श्रेष्ठ कार्यों से दूर रहता है। किन्तु सूक्ष्म निरीक्षण करने पर हम पाएंगे कि धन स्वयं में दोषपूर्ण नहीं है। वस्तुतः धन के अनुचित प्रयोग की ही निदा की जानी चाहिए। हमारा कर्त्तव्य है कि हम जन-कल्याण के लिए सम्पत्ति-दान करके समाज के प्रति सत्यनिष्ठ रहे। यदि हम अपने देश के पूर्ण विकास के इच्छुक हैं तो केवल निजी लाभों को दृष्टि में नहीं रखा जाना चाहिए। 

6. धन-संग्रह की प्रवृत्ति निन्दनीय है क्योंकि अधिक धन 
(a) मनुष्य को लोभी बनाता है
(b) अभिमान, आलस्य और अन्य अवगुणों को जन्म देता है
(c) अपने कर्त्तव्य से दूर करता है
(d) जीवन को कष्टमय बनाता है
(e) इनमें से कोई नहीं

7. धन-संचय दोष न होकर दोष है धन का 
(a) दुरुपयोग
(b) अत्यधिक लोभ
(c) व्यक्तिगत कार्यां के लिए उपयोग
(d) तिरस्कार
(e) इनमें से कोई नहीं

8. धन का उचित उपयोग करने के लिए हमें चाहिए 
(a) निजी लाभ की ओर ध्यान देना
(b) अर्जित सम्पत्ति दान में दे देना
(c) समाज-हित को सर्वापरि समझना
(d) जनकल्याण के लिए सम्पत्ति-दान के साथ समाज के प्रति निष्ठावान् होना
(e) इनमें से कोई नहीं

9. श्रेष्ठ कार्यां से व्यक्ति दूर होने लगता है, जब वह 
(a) अकिंचन हो जाता है
(b) पाप कर्मों की ओर प्रवृत्त हो जाता है
(c) अधिक धनी होता जाता है
(d) वास्तविक लक्ष्य को विस्मृत कर बैठता है
(e) इनमें से कोई नहीं

10. इस अवतरण का सर्वाधिक उपयुक्त शीर्षक हो सकता है 
(a) धन-संग्रह
(b) जीवन के लिए धन
(c) धन का समुचित उपयोग
(d) धन की महत्ता
(e) इनमें से कोई नहीं

निर्देश (प्रश्न 11 से 15) :  निम्नलिखित प्रश्नों में एक शब्द दिया गया है तथा उसके पांच विकल्प दिए गए हैं. आपको दिए गए विकल्पों में से शब्द के लिए विपरीतार्थक शब्द का चयन करना है. तथा उत्तर अंकित करना है.
11. ज्ञान 
(a) विज्ञान
(b) अज्ञान
(c) संज्ञान
(d) परिज्ञान
(e) इनमें से कोई नहीं

12. ज्ञेय  
(a) अनबूझ
(b) अज्ञेय
(c) नासमझ
(d) विज्ञेय
(e) इनमें से कोई नहीं

13. ज्येष्ठ 
(a) कनिष्ठ
(b) लघु
(c) अल्प
(d) छोटा
(e) इनमें से कोई नहीं

14. ज्योतिर्मय 
(a) श्याममय
(b) कालिमायुक्त
(c) अंधकारमय
(d) धुंधयुक्त
(e) इनमें से कोई नहीं

15. जटिल  
(a) सज्जन
(b) जर्जर
(c) सरल
(d) सीधा
(e) इनमें से कोई नहीं  





CRACK IBPS PO 2017



11000+ (RRB, Clerk, PO) Candidates were selected in IBPS PO 2016 from Career Power Classroom Programs.


9 out of every 10 candidates selected in IBPS PO last year opted for Adda247 Online Test Series.

No comments:

Post a Comment