06/10/2017

Hindi Quizzes for IBPS RRB 2017

IBPS RRB 2017 के लिए हिंदी प्रश्नोत्तरी 

प्रिय पाठकों !!



IBPS RRB की अधिसूचना जारी की जा चुकी है. ऐसे में आपकी सफलता सुनिश्चित करने के लिए हम आपके लिए हिंदी की प्रश्नोतरी लाये है. आपनी तैयारी को तेज करते हुए अपनी सफलता सुनिश्चित कीजिये...

निर्देश (1-10): नीचे दिए गए परिच्छेद में कुछ रिक्त स्थान छोड़ दिए गए हैं तथा उन्हें प्रश्न संख्या से दर्शाया गया है. ये संख्याएं परिच्छेद के नीचे मुद्रित हैं, और प्रत्येक के सामने (a), (b), (c), (d) और (e) विकल्प दिए गए हैं. इन पांचों में से कोई एक इस रिक्त स्थान को पूरे परिच्छेद के संदर्भ में उपयुक्त ढंग से पूरा कर देता है. आपको वह विकल्प ज्ञात करना है, और उसका क्रमांक ही उत्तर के रूप में दर्शाना है. आपको दिए गए विकल्पों में से सबसे उपयुक्त का चयन करना है.

सूचनातंत्र के वर्तमान दौर में सूचना और ज्ञान के प्रसार के नाम पर अतिकथन की भरमार स्वाभाविक मान ली गई है। खोल कर सब कुछ कह देने की यह प्रतिज्ञा संपूर्ण संप्रेषण की इच्छा की (1) है। लेकिन भाषा का अपना (2) कुछ ऐसा अजब है कि ज्यादा कह कर दरअसल कई बार हम बहुत ही कम- सार्थक, सारगर्भित, विचारोत्तेजक, प्रेरक- कह-सुन पाते हैं। इस के (3) पुराने जमाने में - और आधुनिकता के दौर में भी - ऐसे (4) होते आए हैं जो सूत्रों में अपनी बात कह कर श्रोता-पाठक दर्शक को गुनने या मनन करने के लिए मुक्त छोड़ देते हैं। थोडे़ में बहुत कह देने की (5) कविता में हमेशा रहा है। नए जमाने में मित-कथन ने ‘डायरी’ और ‘जर्नल’ का भी रूप लिया; पुराने जमाने में श्लोक, मंत्र, संहिता और संवाद में सूत्र-बद्ध कथन का। यूनान और भारत दोनों जगह के (6) सामने हैं। पद्य-रूपों में या गद्यांशों में किन्हीं खास छंदों या प्रश्नोत्तर शैली में (7) इस मनीषा ने असंख्य टीकाओं, भाष्यों और टिप्पणियों इत्यादि को जन्म दे कर उन्मुक्त मतमतांतर को तो प्रोत्साहन दिया ही, बड़ा काम यह भी किया कि असंख्य मेधाओं को रचना-विचार के क्षेत्र में सक्रिय कर दिया। हमें विश्वास है, इस बार चिन्तन-भूमि स्तंभ में प्रकाशित, मित-कथन के लिए (8) कवि-मनीषी अज्ञेय की प्रकाशित डायरी के कुछ अंश पाठकों के लिए संस्कृति, समाज, अस्तित्व और चिंतन-मनन के कुछ (9) आयाम दिखाने में, और अपनी-अपनी तरह से कुछ मूल्यवान खोजने-पाने-रचने की (10) देने में सहायक होंगे। 


1. (a) परिपाटी 
(b) परिणाम 
(c) देन 
(d) रचना 
(e) योजना 

2. (a) उद्देश्य  
(b) स्वभाव 
(c) चयन 
(d) विकल्प 
(e) अभाव 

3. (a) कारण 
(b) अभाव में 
(c) समान 
(d) विपरीत 
(e) साथ 

4. (a) मनीषी 
(b) पाठक 
(c) उद्यमी 
(d) श्रोता 
(e) व्यवधान

5. (a) आचरण 
(b) परिणाम 
(c) अनुभव 
(d) व्यवहार  
(e) सामर्थ्य

6. (a) परिवेश  
(b) उदाहरण 
(c) व्यक्ति 
(d) शासक 
(e) देश 

7. (a) पिटी  
(b) मिटी
(c) ढ़ली 
(d) पली 
(e) बढ़ी 

8. (a) विख्यात 
(b) समर्पित 
(c) उद्वेलित 
(d) कुख्यात 
(e) अज्ञात 

9. (a) निहित 
(b) कपोल-कल्पित 
(c) परिचित 
(d) अमान्य 
(e) अछूते 

10. (a) कल्पना  
(b) चेतना 
(c) घोषणा 
(d) प्रेरणा 
(e) मान्यता 

निर्देश (11-15): नीचे दिया गया प्रत्येक वाक्य चार भागों में बांटा गया है. जिन्हें (a), (b), (c), और (d) क्रमांक दिए गए हैं. आपको यह देखना है कि वाक्य के किसी भाग में व्याकरण, भाषा, वर्तनी, शब्दों के गलत प्रयोग या इसी तरह की कोई त्रुटि तो नहीं है. त्रुटि अगर होगी तो वाक्य के किसी एक भाग में ही होगी. उस भाग का क्रमांक ही उत्तर है. अगर वाक्य त्रुटिरहित है तो उत्तर (e) अर्थात् ‘दोष रहित’ दीजिए. 

11. अरे! यही मैं भी (a)/ कहा करता था पर (b)/ तब आप सब मेरी बात सुना (c)/ ही नहीं करते थे। (d)/ दोष रहित (e)

12. बर्लिन शहर के विभाजन का (a)/ एक लम्बा इतिहास बना है (b)/ जो सिर्फ पुरानी (c)/ पीढ़ी को ही याद है। (d)/ दोष रहित (e)

13. इस समय भारत के (a)/ पास बल्लेबाज तो खूब हैं (b)/ पर गेंदबाजी की (c)/ अच्छी कमी है। (d)/ दोष रहित (e)

14. यह साफ साफ पता (a)/ चल तो नहीं पा रहा है पर (b)/ संदेह की सुई गांव के ही (c)/ सुमेर सिंह की ओर जाती है। (d)/ दोष रहित (e)

15. बाहर चर्च के पास (a)/ कुछ लोग खडे़ हो कर (b)/ प्रतीक्षा करने लगे तभी (c)/ वह आता हुआ दिखा। (d)/ दोष रहित (e)








CRACK IBPS PO 2017



11000+ (RRB, Clerk, PO) Candidates were selected in IBPS PO 2016 from Career Power Classroom Programs.


9 out of every 10 candidates selected in IBPS PO last year opted for Adda247 Online Test Series.

No comments:

Post a Comment