22/09/2017

Hindi Quizzes for IBPS RRB 2017

IBPS RRB 2017 के लिए हिंदी प्रश्नोत्तरी 

प्रिय पाठकों !!



IBPS RRB की अधिसूचना जारी की जा चुकी है. ऐसे में आपकी सफलता सुनिश्चित करने के लिए हम आपके लिए हिंदी की प्रश्नोतरी लाये है. आपनी तैयारी को तेज करते हुए अपनी सफलता सुनिश्चित कीजिये...

निर्देश(1-5) नीचे दिए गए गद्यांश के आधार पर पांच प्रश्न दिए गए है. गद्यांश का अध्ययन कीजिये और प्रश्न का उत्तर दीजिये.
प्रकृति पर आदमी के नियंत्रण में जो वृद्धि होती है उसका परिणाम या तो भला होता है या बुरा. हाल में जो वैज्ञानिक प्रगति हुई है उससे आर्थिक सम्पन्नता मिली है और साथ ही आणविक शक्ति भी. आज अगली पीढ़ी में सारी दुनिया की भौतिक समृद्धि के बढ़ने की संभावना इतनी बढ़ गई है जितनी अभी तक कल्पना भी नहीं की गई थी. इसका कारण है अविष्कार और नयी-नयी खोजें. अगर हम समझदार हैं तो दुनिया से गरीबी और भूख को निकाल बाहर कर सकते हैं; यहाँ तक कि महाविनाश तक आ सकता है. इस अणु युग में जीवित रहने के लिए सहिष्णुता, धैर्य, दया और साहस का विकास करने की आवश्यकता है. 


1. वैज्ञानिक प्रगति ने हमें प्रदान की है 
(a) वैभव सम्पन्नता 
(b) सम्पन्नता एवं अणुशक्ति 
(c) गरीबी और भूख 
(d) प्रगति और प्रतिष्ठा
(e) इनमें से कोई नहीं 

2. भावी पीढ़ी में सम्भावनाएँ बढ़ी हैं 
(a) विश्वशान्ति की 
(b) स्वास्थ्य और स्वच्छता की 
(c) भौतिक सम्पन्नता की 
(d) विवेक और समझदारी की
(e) इनमें से कोई नहीं 

3. दुनिया से भूख और गरीबी मिटाने का एकमात्र उपाय है 
(a) वैज्ञानिक आविष्कारों में वृद्धि 
(b) युवकों का परिश्रमी होना 
(c) वैज्ञानिक अविष्कारों का विवेकपूर्ण उपयोग 
(d) धैर्य और साहस से काम लेना
(e) इनमें से कोई नहीं 

4. अणु युग में महाविनाश को बचाने के लिए अत्यन्त आवश्यक है
(a) युद्ध-विराम
(b) सहनशीलता, धैर्य, साहस आदि का विकास 
(c) अणुशक्ति का संग्रह करना 
(d) संगठन और एकता
(e) इनमें से कोई नहीं 

5. इस अनुच्छेद का सर्वाधिक उपयुक्त शीर्षक हो सकता है 
(a) अणु युग 
(b) मानवीय मूल्यों का संरक्षण 
(c) अणु युग और प्रगति की दिशाएँ
(d) आणविक शक्ति : सीमाएँ और सम्भावनाएँ
(e) इनमें से कोई नहीं

निर्देश(6-10) : नीचे दिए गए प्रश्नों में अनुच्छेदों के पहले और अन्तिम वाक्यों को क्रमशः 1 और 6 की संज्ञा दी गई है. इनके मध्यवर्ती वाक्यों को चार भागों वाक्य व्यवस्थित क्रम में नहीं हैं. इन्हें ध्यान से पढ़कर दिए गए विकल्पों में से उचित क्रम चुनिए. 

6. 1. सूरदास का अधिकांश काव्य गीतिकाव्य है. 
य. माधुर्य एवं प्रसाद गुणों की अधिकता है. 
र. ‘कंसवध’ के वर्णन में ओजगुण का भी समावेश है. 
ल. भाषा सर्वत्र सरल एवं सुबोध है. 
व. इसमें विभिन्न राग-रागिनियों का समावेश है. 
6. इनका ‘भ्रमरगीत’ वियोग शृंगार का अनूठा नमूना है 
(a) ल व य र 
(b) व ल य र 
(c) ल व र य 
(d) य र व ल 
(e) इनमें से कोई नहीं

7. 1. प्रार्थना में दैववाद और प्रयत्नवाद का समन्वय है।  
य. प्रयत्नवाद में निरहंकार वृत्ति नहीं है, इससे वह घमंडी है 
र. दैववाद की नम्रता और प्रयत्नवाद का पराक्रम दोनों ही परम आवश्यक हैं। 
ल. दैववाद में पुरूषार्थ को अवकाश नहीं है, इससे वह बावला है। 
व. दोनों को ग्रहण नहीं किया जा सकता किन्तु दोनों को छोड़ा भी नहीं जा सकता।
6. प्रार्थना इनका मेल साधती है। 
(a) य ल र व 
(b) य ल व र 
(c) ल य व र  
(d) ल य र व
(e) इनमें से कोई नहीं

8. 1. मुझमें जैसे सागर के प्रथम दर्शन  
य. की विशालता और रमणीकता ने 
र. हिम-मण्डित इस प्राकृतिक दुर्ग हिमालय 
ल. भी एक जादू की छड़ी फेर कर 
व. ने एक अनोखा उद्वेलन अंकित किया था, उसी प्रकार 
6. हिप्नोटाइज़ किया है। 
(a) य ल र व 
(b) व य र ल 
(c) व र य ल 
(d) य व र ल
(e) इनमें से कोई नहीं

9. 1. न केवल भारत के लिए अपितु सम्पूर्ण विश्व, अखिल मानव-सृष्टि
य. को आगे और आगे बढ़ने की, आत्माविस्तार और परम पुरूषार्थ 
र. के लिए यह एक वरदान है कि प्रकृति 
ल. को सिरजा; जिसने सदा-सदा से मानव 
व. ने भारत जैसी पावन पुण्यभूमि  
6. को प्राप्त करने की अनोखी उत्कंठा प्रदान की है, अपार साहस दिया है। 
(a) य र व ल 
(b) ल य र व 
(c) र व ल य 
(d) र य व ल
(e) इनमें से कोई नहीं

10. 1. शिक्षा मनुष्य के विकास  
य. यह ऐसा अमूल्य धन है
र. के लिए परम आवश्यक है  
ल. जिसे चोर चुरा नहीं सकता, 
व. भाई बांट नहीं सकता 
6. अतः शिक्षा को बढ़ावा देना चाहिए 
(a) र य व ल 
(b) य र ल व 
(c) र य ल व 
(d) र व ल य
(e) इनमें से कोई नहीं

11. 1. गीता कर्मोपदेश का एक महान् ग्रंथ है। 
य. अर्जुन मोह जाल में फंस गया 
र. इसका उपदेश श्री कृष्ण ने 
ल. और उसने युद्ध करने से मना कर दिया 
व. अर्जुन को दिया जब  
6. श्री कृष्ण ने कर्म ही जीवन का आधार माना। 
(a) य ल व र 
(b) य र ल व 
(c) र ल य व 
(d) र व य ल
(e) इनमें से कोई नहीं

12. 1. महात्मा गांधी ने  
य. बढ़ते प्रवाह के विरूद्ध
र. और बलिदान, त्याग जैसे  
ल. औद्योगिक और भौतिक सभ्यता के 
व. अहिंसा, सत्य, सेवा 
6. जीवन-मूल्यों पर बल दिया 
(a) य ल व र  
(b) ल य व र 
(c) र व ल य 
(d) य ल र व
(e) इनमें से कोई नहीं

13. 1. जब पुराने जीव-जन्तुओं तथा नगरों के अवशेष 
य. विशेष जानकारी मिलने लगती है 
र. खोदकर बाहर निकाले जाते हैं  
ल. और भूतकाल के विषय में हमारा ज्ञान भी 
व. तो हमें प्राचीन इतिहास की  
6. प्रत्यक्ष रूप से बढ़ जाता है।  
(a) व र य ल 
(b) र व य ल 
(c) र व य ल 
(d) य ल र व
(e) इनमें से कोई नहीं

14. 1. स्वामी जी ने एक 
य. श्रद्धावान बन 
र. श्रद्धा का अभिप्राय कई बातों से है  
ल. आत्मज्ञान प्राप्त कर 
व. अधैर्यवान शिष्य को समझाया 
6. पहली है आत्मश्रद्धा (आत्मविश्वास) 
(a) ल व य र 
(b) व य ल र 
(c) य र ल व 
(d) व ल र य
(e) इनमें से कोई नहीं

15. 1. पीड़ित की पीड़ा की  
य. उन्मुख रहें जिस तरह प्रभातकालीन 
र. एक-एक कराह को सुनने के लिए 
ल. तुम्हारे प्राण उसी तरह 
व. सूर्य रश्मियों का पान करने के लिए 
6. खिलता कमल अपना हृदय खोले रहता है। 
(a) ल र य व 
(b) य ल र व 
(c) व ल र य 
(d) र ल य व
(e) इनमें से कोई नहीं 




CRACK IBPS PO 2017



11000+ (RRB, Clerk, PO) Candidates were selected in IBPS PO 2016 from Career Power Classroom Programs.


9 out of every 10 candidates selected in IBPS PO last year opted for Adda247 Online Test Series.

No comments:

Post a Comment