IBPS PO Exam 2018 Quant Preparation: Tips To Ace Qaunt Section

IBPS PO Exam 2018 Quant Preparation: Tips To Ace Qaunt Section


आईबीपीएस ने हाल ही में प्रोबेशनरी ऑफिसर की भर्ती के लिए अधिसूचना जारी की और परीक्षा की तारीख अक्टूबर में निर्धारित की गई है. तो छात्रों, इस परीक्षा के लिए तैयारी करने का अभी भी आपके पास बहुत समय है आप एक अच्छी रणनीति के साथ अधिक से अधिक प्रश्नों का अभ्यास करके इस खंड में भीतर अंक प्राप्त कर सकते हैं. बढती प्रतिस्पर्धा के साथ-साथ परीक्षाओं में अन्य खंडो का स्तर बढ़ता जा रहा है, और यह भी तय है की संख्यात्मक अभियोग्यता का बढ़ता स्तर भी परीक्षा में आपके पैरो तले जमीन खिसका सकता है. लेकिन किसी भी उम्मीदवार को यह नहीं भूलना चाहिए की उत्तरों का बेहतर प्रयास और सटीकता के साथ आप किसी भी परिस्थिति को बदल सकते हैं.  IBPS PO Exam 2018 में संख्यात्मक अभियोग्यता में बेहतर अंक प्राप्त करने के लिए हम आपको एक रणनीति प्रदान कर रहे हैं.

IBPS PO प्रीलीम्स परीक्षा में इस धारा में पूछे गए प्रश्नों की कुल संख्या 35 होगी. मात्रात्मक योग्यता अनुभाग में ग्रेड बनाने की रणनीति बहुत आसान है. सबसे पहले Quadratic Equations/ Inequalities (Quantity 1, Quantity 2), Simplification/ Data Sufficiency/ Approximation, और Number Series के प्रश्नों को पहले हल करना शुरू कीजिये. इन विषयों पर आधारित प्रश्नों की संख्या 10-5 होगी. यदि हम IBPS PO Prelims Exam के विगत वर्षों की परीक्षाओं की बाते करते हैं तो Number Series, Quadratic Equations, Simplification, Approximation, आदि से 5-6 प्रश्न थे.

अगर हम इस वर्ष के एसबीआई पीओ और आरआरबी पीओ परीक्षाओं के बारे में बात करते हैं, तो डेटा दक्षता और मात्रा 1 और मात्रा 2 के आधार पर प्रश्न भी पूछे गए थे. इसने सबको आश्चर्य चकित कर दिया क्योंकि इस से पूर्व इसे प्राथमिक परीक्षा में कभी भी नहीं देखा गया था. इन सभी सवालों को कुशलता से प्रयास करने के बाद, डेटा व्याख्या / केसलेट के प्रश्नों को हल कीजिये. पिछले वर्ष के IBPS PO Prelims Examination में DI से 12 प्रश्न थे तो इस वर्ष भी हम इस से 10-15 प्रश्नों की अपेक्षा कर सकते हैं. एक संभावना है कि 2 डी के साथ एक केसलेट से पूछा जा सकता है क्योंकि इस साल कई बैंकिंग परीक्षाओं के शुरुआती चरण में यह पूछा जा चुका है

अंत में अंकगणितीय पर आधारित प्रश्नों को हल कीजिये. IBPS PO Prelims Exam 2017 में इस से 12-15 प्रश्न थे तो इस वर्ष भी हम इस से 10-15 प्रश्न पूछे जाने की उम्मीद कर सकते हैं, जिसमें से कम से कम 6 प्रश्नों को आप आसानी से हल सकते हैं.

छात्रों, संख्यात्मक अभियोग्यता एक ऐसा खंड है जो आपको परेशानी में डाल सकता है लेकिन भूलिए मत की सबसे अधिक अंक भी आप इसी खंड में प्राप्त कर सकते हैं. अपनी सोच को सकारात्मक रखिये यदि एक बार आप अपने नकारात्मक सोच को सकारात्मक में बदलते हैं तो आपको अवश्य हे सफलता प्राप्त होती है. इस खंड में बेहतर अंक प्राप्त करने के लिए आपको अभिक से अधिक अभ्यास करना होगा. परिश्रम हे सफलता की कुंजी है.