IBPS RRB Clerk Mains 2019 परीक्षा से Takeaways

IBPS RRB Clerk Mains 2019 परीक्षा से Takeaways


IBPS RRB क्लर्क मुख्य परीक्षा 20 अक्टूबर 2019 को आयोजित की गई थी. जो उम्मीदवार IBPS RRB क्लर्क परीक्षा में उपस्थित हुए हैं वे सभी परीक्षा के बाद बेहतर महसूस कर रहे होंगे. वे सभी छात्र जो अन्य बैंकिंग परीक्षा देने वाले हैं या 2020 में आईबीपीएस आरआरबी परीक्षा के लिए उपस्थित होने का इंतजार कर रहे हैं, उन्हें आईबीपीएस आरआरबी क्लर्क परीक्षा के विवरण के बारे में जानने के लिए उत्सुक होना चाहिए. यदि आप बैंकिंग के इच्छुक हैं या निकट भविष्य में बैंकिंग परीक्षा की तैयारी करना चाहते हैं, तो आपको आईबीपीएस आरआरबी क्लर्क परीक्षा के विश्लेषण पर गौर करना चाहिए क्योंकि यह आपको इन दिनों बैंकिंग परीक्षा द्वारा दिए गए विषयों और प्रश्नों का विवरण देगा.

IBPS RRB क्लर्क मुख्य परीक्षा 2019 का स्तर मध्यम था. केवल कुछ प्रश्न कठिन थे और रीजनिंग का भाग काफी पेचीदा था. अक्टूबर के महीने में कई परीक्षाएं आयोजित की गई हैं, और अब शेष परीक्षाएं LIC Assistant, IBPS PO mains, RBI Grade B, IBPS Clerk, आदि हैं.


IBPS RRB क्लर्क परीक्षा में कुल 200 प्रश्न और 2 घंटे का समग्र समय होता हैछात्र की समीक्षा के अनुसार, परीक्षा में अच्छे प्रयासों की संख्या 139-152 प्रश्न थे. इसका अर्थ यह है कि प्रतियोगिता बहुत अधिक है क्योंकि प्रश्नपत्र मध्यम स्तर का था. किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में जाने से पहले उम्मीदवार को विशेष परीक्षा के परीक्षा पैटर्न को जानना होगा. हमने IBPS RRB क्लर्क के मुख्य सेक्शन-वार विवरण दिए हैं जो आगामी परीक्षा के लिए खुद को तैयार करने में आपकी मदद कर सकते हैं. हम आशा करते हैं कि आप इस परीक्षा की मदद से आगामी परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करेंगे.

संख्यात्मक अभियोग्यता और रीजनिंग अनुभाग से अधिकतम अंकों के लिए प्रश्न पूछे जाते हैं और इसमें 200 में से 100 अंक सम्मिलित होते हैं. समीक्षाओं के आधार पर हमें यह पता चला की संख्यात्मक अभियोग्यता अनुभाग कठिन से मध्यम स्तर का था. इसमें DI के 4 सेट पूछे गए थे और यदि हम अन्य परीक्षाओं की बात करते हैं तो DI एक ऐसा टॉपिक है जिसमें आप अधिक से अधिक अंक प्राप्त कर सकते हैं. अन्य टॉपिक जिसमें आप अंक प्राप्त कर सकते हैं वे Train Based, Boat & Stream, CI and SI, Profit & Loss, Time and Work, Partnership, Age Based, Mensuration आदि हैं. 

रीज़निंग सेक्शन में 200 में से कुल 50 अंक होते हैं और इसमें 40 प्रश्न होते हैं. संख्यात्मक अभियोग्यता की तुलना में रीजनिंग सेक्शन काफी आसान था. इसलिए, पजल, बैठने की व्यवस्था, निर्देशन, कोडिंग-डिकोडिंग, रक्त संबंध, वर्णमाला आधारित आदि जैसे कुछ क्षेत्रों का अभ्यास आपको किसी भी बैंकिंग परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन करने में साहायता दे सकता है.

अंग्रेजी और हिंदी अनुभाग वैकल्पिक प्रकृति का था. उम्मीदवार हिंदी या अंग्रेजी में से एक का चयन कर सकते हैं. तथा दोनों अनुभागों में आसान प्रश्न दिए गए थे जिसमें थोड़ी मेहनत की आवश्यकता थी. इस अनुभाग के आधारभूत व्याकरण नियमों का अध्यन करके आप इसे हल कर सकते हैं. 

इस साल के IBPS RRB क्लर्क परीक्षा में जनरल अवेयरनेस सेक्शन सबसे गतिशील था. करंट अफेयर्स में स्थैतिक की तुलना में अधिक प्रश्न थे. इसलिए आगामी परीक्षा के लिए आप सभी को बैंकिंग परीक्षा के पैटर्न पर नज़र रखनी चाहिए.

कंप्यूटर अवेयरनेस का स्तर बहुत आधारभूत था. इसमें पूछे गए कुछ विषय निम्न्लिख्ती हैं: MS Office, Shortcut Key, Binary to Decimal, Operating System, MAC Address, and Common Pointing Device.

Bankersadda की ओर से आप सभी को आगामी परीक्षाओं के लिए शुभकामनाएं.

Preparing for LIC Assistant? Get free LIC Assistant study material here