बैंकिंग अवेयरनेस स्पेशल सीरीज़: बैंकिंग सेक्टर में इस्तेमाल किए जाने वाले महत्वपूर्ण कोड (Different codes used in banking sector) - Part-1

बैंकिंग अवेयरनेस स्पेशल सीरीज़: बैंकिंग सेक्टर में इस्तेमाल किए जाने वाले महत्वपूर्ण कोड (Different codes used in banking sector) - Part-1


हम सभी जानते है कि लगभग सभी बैंकिंग परीक्षाओं में अधिकांश सवाल बैंकिंग अवेयरनेस यानि बैंकिंग से जुड़ी हाल ही घटनाओं से पूछे जाते है, ऐसे में उम्मीदवारों के लिए जरुरी है कि वे हाल के Important Banking Event के बारे में अपडेट रहे और परीक्षा में पूछे गए सवालों का Confident के जवाब दें. Candidates की इसी बात को समझते हुए Adda247 की टीम ने आपके लिए तैयार की है सभी बैंकिंग परीक्षाओं के लिए बैंकिंग अवेयरनेस स्पेशल सीरीज़. 




इस सीरीज़ में, हम रोज़ाना (daily basis) आपके लिए कुछ महत्वपूर्ण बैंकिंग अवेयरनेस टॉपिक्स लेकर आएंगे, इसी कड़ी में आज की हमारी इस सीरीज़ का टॉपिक- बैंकिंग सेक्टर में इस्तेमाल किए जाने वाले महत्वपूर्ण कोड (Different codes used in banking sector) - Part-1यदि आप किसी Goverment Bank Job में जाना चाहते है तो ये बहुत ही जरुरी हो जाता है कि आपको बैंकिंग सेक्टर में इस्तेमाल किए जाने वाले महत्वपूर्ण कोड (Different codes used in banking sector) - Part-1 के बारे में अच्छी Knowledge हो. इस आर्टिकल में आगे बैंकिंग कोड से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी यानी बेसिक फैक्ट्स दिए जा रहे हैं



बैंकिंग सेक्टर में इस्तेमाल किए जाने वाले महत्वपूर्ण कोड (Different codes used in banking sector) - Part-1


 बैंकिंग सेक्टर के संचालन के लिए विभिन्न codes का प्रयोग किया जाता है, जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं-


1.) IFSC (Indian Financial System Code): 

  • जब हम एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में रुपए ट्रांसफर करते हैं तो हमें एक कोड की भी आवश्यकता होती है जिसे IFSC कोड कहते हैं। IFSC कोड बैंकिंग रुपए ट्रांसफर का आधार है।
  • IFSC कोड से हम किसी व्यक्ति की बैंक ब्रांच पता कर सकते हैं।
  • इसमें 11 कैरेक्टर होते हैं, जिनमें से पहले 4 बैंक का नाम बताते हैं तथा अंतिम 6 बैंक ब्रांच का नाम बताते हैं। पाँचवा कैरेक्टर (शून्य) भविष्य के लिए छोड़ा गया है।
  • IFSC कोड को हम सामान्यतः पासबुक के पहले पेज पर तथा बैंक चैक पर भी देख सकते हैं।


2.) MICR Code (Magnetic Ink Character Recognition Code): 

  • MICR तकनीकी से बैंक चैक पर MICR कोड अंकित किया जाता है।
  • ये एक 9 अंकीय कोड है जिससे उस बैंक की लोकेशन पता चलती है जो रुपए ट्रांसफर में भाग ले रहा है।
  • इन 9 अंकों में पहले 3 अंक शहर, अगले 3 बैंक तथा अंतिम 3 बैंक ब्रांच को प्रदर्शित करते हैं।

3.) SWIFT Code:

  •  सोसायटी ऑफ वर्ल्ड इंटरबैंक फाइनेंशियल टेलीकम्युनिकेशन (SWIFT) कोड को BIC (Bank Identifier Code) के नाम से भी जाना जाता है।
  • यह एक ऐसा नेटवर्क है जो दुनिया भर में वित्तीय लेनदेन को सुरक्षा और व्यवस्था प्रदान करता है।
  • सामान्यतः SWIFT कोड बैंक पासबुक के पहले पेज पर छपा होता है।
  • SWIFT कोड में 8 या 11 अल्फा-न्यूमेरिक कैरेक्टर होते हैं जिनमें से पहले 4 कैरेक्टर शहर, अगले 2 देश, अगले 2 शहर की लोकेशन का प्रतिनिधित्व करते हैं। इसके बाद अंतिम 3 बैंक की ब्रांच का प्रतिनिधित्व करते हैं।


4.) MMID (Mobile Money Identifier):

  • MMID को एक अद्वितीय कोड के रूप में परिभाषित किया जा सकता है जिसका प्रयोग IMPS (Immediate Payment Services) के माध्यम से तुरंत रुपए ट्रांसफर करने के लिए किया जाता है।
  • आप अब सिर्फ अपने बैंक के मोबाइल ऐप पर लॉगिन करके तथा, रिसीवर का मोबाइल नम्बर, रुपए, और MMID कोड लिखकर आसानी से घर बैठे रुपए ट्रांसफर कर सकते हैं।
  • MMID कोड में 7 अंक होते हैं। 



इससे  पहले कवर किये गये टॉपिक्स :