Top scoring topics for IBPS clerk 2020 : क्लर्क प्रीलिम्स परीक्षा में इन टॉपिक्स की मदद से कर सकते हैं high score

Top scoring topics for IBPS clerk 2020 : क्लर्क प्रीलिम्स परीक्षा में इन टॉपिक्स की मदद से कर सकते हैं high score

Top scoring topics for IBPS clerk Prelims 2020 - Section wise scoring topics

IBPS Clerk Recruitment Notification 2020 :  सितम्बर में जारी किया गया था, हमें उम्मीद है कि बैंकिंग सेक्टर में जॉब करने की इच्छा रखने वाले उम्मीदवारों ने आवेदन किया होगा. अब यह अपनी प्रिपरेशन पर फोकस करने का समय है. IBPS CLERK PRELIMS 2020 और IBPS clerk mains 2020 परीक्षाओं का आयोजन क्रमशः दिसम्बर और जनवरी में होने वाला हैं. हम आप सभी की मदद के लिए IBPS Clerk 2020 के लिए महत्वपूर्ण टॉपिक्स ले कर आये हैं. जिनकी मदद से आप आगामी IBPS clerk 2020 prelims परीक्षा में सफलता प्राप्त कर सकते हैं. 


जैसे कि आप सभी जानते हैं कि प्रीलिम्स और मेंस परीक्षा के बीच मात्र 1 महीने का अंतर है, ऐसे में उम्मीदवारों को अभी से मेंस के अनुसार अपनी तैयारी शुरू कर देनी चाहिए. आपको बता दें कि IBPS क्लर्क मेंस और प्रीलिम्स परीक्षा में ज्यादा फर्क नहीं हैं फर्क ये है कि मेंस परीक्षा में एक अन्य  विषय जनरल अवेयरनेस का add किया  गया है. इसके साथ ही अन्य सभी विषय और सिलेबस समान है. फर्क सिर्फ परीक्षा स्तर का  है. 


यह भी पढ़ें - 



Important Topics for IBPS Clerk 2020 : IBPS क्लर्क 2020 के लिए महत्वपूर्ण टॉपिक

उम्मीदवारों को सबसे पहले परीक्षा पैटर्न को समझना चाहिए, उसके बाद उसके अनुसार, अपनी तैयारी को आगे बढ़ाना चाहिए। आगामी परीक्षा में सफलता प्राप्त करना चाहते हैं, तो अभी से उसके लिए एक रणनीति बनायें और उसका दृढ़ता से पालन करें। यहां IBPS क्लर्क 2020 प्रीलिम्स परीक्षा का पैटर्न दिया गया है:

क्र.सं.विषय (वैकल्पिक)प्रश्नों की संख्या अधिकतम अंक    समयसीमा
1English Language303020 minutes
2Quantitative Aptitude353520 minutes
3Reasoning Ability353520 minutes
Total10010060 minutes




अनुभाग-वार महत्वपूर्ण विषय: Section-wise important topics

प्रीलिम्स परीक्षा में लगभग 2 महीने शेष हैं, नीचे दिए गए टॉपिक पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता हैं। प्रत्येक अनुभाग के लिए अनुभागीय कट-ऑफ है और इसलिए प्रत्येक अनुभाग को समान महत्व देना आवश्यक है। ये विषय प्रीलिम्स के साथ-साथ मेंस के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण है। इसलिए इन्हें ध्यान से पढ़ें और समझें।


English language : अंग्रेजी भाषा 

अंग्रेजी कुल 30 अंकों की आती है, जिसके लिए 20 मिनट निर्धारित किये गए हैं-

Comprehension : 1-2 पैसेज के साथ इसके लिए 10 अंक निर्धारित किये गए हैं, जिसमें synonyms, antonyms, और title पूछे जाते हैं।

Error Spotting :Error spotting  के 5-10 प्रश्न पूछे जाते हैं, जो इसे अधिक स्कोरिंग भाग बनाते हैं।

Phrase : कम से कम 5 प्रश्न पूछे जाते हैं जिसमें एक उम्मीदवार को एक वाक्य में एक हाइलाइट किए गए शब्द को एक उपयुक्त वाक्यांश द्वारा प्रतिस्थापित करना होता है।

Fill in the blankssingle or double fillers के साथ रिक्त स्थान भरने के 5 प्रश्न पूछे जाते हैं।

Para jumblesRearrangement एक निश्चित विषय है, जो एक छात्र को 4-5 अंक प्रदान कर सकता है।

Cloze test : इस विषय के लिए व्याकरण का अच्छा ज्ञान आवश्यक है। इसके 5 से 10 प्रश्न पूछे जाते हैं।

Sentence Formation: इस विषय से 5-6 प्रश्न पूछे जा सकते हैं।


यह भी देखें - 


Logical ability - तार्किक क्षमता

रीजनिंग के लिए 20 मिनट निर्धारित किये गए हैं, जो कुल 35 अंकों की होती है। यहां आईबीपीएस क्लर्क 2019 के लिए तर्क के सबसे अधिक पूछे जाने वाले विषय हैं।

Puzzles and meeting arrangements: इस विषय से 10-15 प्रश्न पूछे जाते हैं, जो इस विषय को तर्क के लिए, उच्चतम स्कोरिंग टॉपिक में स्थान दे सकते हैं।

Coding-decoding  : इस विषय से 5 प्रश्न पूछे जाते हैं। परीक्षा में शब्द या वाक्य आधारित कोडिंग पूछी जाती है।

न्याय प्रश्न (Syllogism): यह सबसे कठिन सेक्शन में से एक है, लेकिन अच्छा अभ्यास करने से इसके 5 अंक आपको बहुत कम समय में मिल सकते हैं ।

Inequality : IBPS क्लर्क परीक्षा में यहाँ से 5-7 प्रश्न पूछे जाते हैं। परीक्षा में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष दोनों तरह की असमानता पूछी जाती है।

रक्त संबंध, क्रम और  रैंकिंग, दिशा निर्देश अन्य महत्वपूर्ण क्षेत्र हैं जिन्हें आईबीपीएस क्लर्क 2019 परीक्षा की तैयारी के दौरान आपको ध्यान में रखना चाहिए।


Numerical culpability - संख्यात्मक अभियोग्यता 

क्वांट सेक्शन भी रीजनिंग सेक्शन की तरह ही महत्वपूर्ण है। लेकिन यदि आप इस पर अपनी मजबूत पकड़, एक बार बना लेते हैं, तो इसके प्रश्नों को आसानी से हल कर सकते हैं। यह सबसे अधिक स्कोरिंग सेक्शन है, क्योंकि आप इस भाग का जितना अभ्यास करते हैं, यह उतना ही आसान हो जाता है। यहाँ कुछ महत्वपूर्ण टॉपिक दिए जा रहे हैं, जो संख्यात्मक अभियोग्यता में अच्छा स्कोर करेने में आपकी मदद करेंगे :

आकंड़ों का विश्लेषण(DI) : IBPS क्लर्क परीक्षा में इससे 5-10 अंक के प्रश्न आते हैं। इन दिनों बैंकिंग परीक्षा के लिए यह बहुत महत्वपूर्ण टॉपिक है।


Simplification : इस विषय से 10 प्रश्न की उम्मीद की जा सकती है। जितना हो सके उतना अभ्यास करें क्योंकि यह विषय स्कोरिंग के साथ-साथ भ्रमित करने वाला भी है।


Quadratic equation: इस विषय से 5 प्रश्न पूछे जाते हैं। चर के मान प्राप्त करने के लिए समीकरण हल किए जाते हैं।


Data sufficiency : इस विषय से लगभग 5 से 6 प्रश्नों के आने की संभावना है।

लाभ और हानि, प्रतिशत, आयु, औसत आदि अन्य सरल विषय हैं, जो आसानी से आपको अंक दिला सकते हैं।
आशा है कि यह विस्तृत विषय विश्लेषण आईबीपीएस क्लर्क 2019 के लिए तैयारी करने वाले उम्मीदवारों की मदद करेगा।