चीन ने अपनी एक बच्चे की नीति में की बदलाव की घोषणा (China relaxed it’s one-child policy) - करेंट अफेयर्स स्पेशल सीरीज़

चीन ने अपनी एक बच्चे की नीति में की बदलाव की घोषणा (China relaxed it’s one-child policy) - करेंट अफेयर्स स्पेशल सीरीज़


Why China has relaxed its two-child policy to three | China allows couples to have three children after relaxation in its one-child policy failed to bear result | China relaxed it’s one-child policy


Adda247 अपने सभी उम्मीदवारों के लिए एक नई करेंट अफेयर्स स्पेशल सीरीज़ की शुरुआत की है, इस सीरीज़ में, रोज़ाना (daily basis) पर Candidates को महत्वपूर्ण करेंट अफेयर्स के टॉपिक्स में किसी एक टॉपिक के बारे में Detailed information दी जाएगी, जिससे न केवल उनकी जनरल अवेयरनेस में सुधार होगा, बल्कि परीक्षा में उम्मीदवार कर्रेंट अफेयर्स विषय से पूछे जाने वाले सवाल का जवाब Confident के साथ दे सकेगे.


इसी कड़ी में आज का हमारा करेंट अफेयर्स टॉपिक है- चीन ने अपनी एक बच्चे की नीति में की बदलाव की घोषणा (China relaxed it’s one-child policy). यदि आप किसी Government Bank Job में जाना चाहते है तो ये बहुत ही जरुरी हो जाता है कि आपको - राष्ट्रिय और अन्तराष्ट्रीय क्षेत्र से जुड़े करेंट अफेयर्स की अच्छी Knowledge हो.



चीन ने अपनी एक बच्चे की नीति में की बदलाव की घोषणा (China relaxed it’s one-child policy) - करेंट अफेयर्स स्पेशल सीरीज़


चीन ने देश की गिरती जन्म दर को बढ़ाने के लिए अपनी पुरानी जनसंख्या नीति 'वन-चाइल्ड पॉलिसी' को 'थ्री चाइल्ड पॉलिसी' में बदलने की घोषणा की है। चीन में वर्तमान में दंपतियों को केवल एक बच्चे को जन्म देने की अनुमति है, जिसे अब बढ़ाकर तीन बच्चों तक कर दिया गया है। यह निर्णय हाल ही में आयोजित जनगणना के आँकड़ों को देखने के बाद लिया गया है जिसमें दुनिया के सबसे अधिक आबादी वाले देश चीन में जन्म दर में भारी गिरावट देखी गई है।


चीनी नेता देंग शियाओपिंग (Deng Xiaoping) द्वारा 1978 में चीन के कुछ क्षेत्रों के लिए पहली बार एक बच्चे की नीति का प्रयोग किया था। कई बार यह नीति दो बच्चों की नीति में भी बदल चुकी है। 2016 में इसे फिर से एक बच्चे की नीति के रूप में लागू किया गया था।


चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की अध्यक्षता में हुई बैठक में इस बदलाव को मंजूरी दे दी गई। चीन के द्वारा 2016 में एक बच्चे की नीति में ढील देने और दंपतियों को दूसरा बच्चा पैदा करने की अनुमति देने के बाद भी जन्म दर में कोई खास बदलाव देखने को नहीं मिला है क्योंकि चीन के शहरों में बच्चों की परवरिश की ऊँची लागत की वजह से कई दंपतियों ने पूर्व की भाँति ही एक बच्चे को जन्म देना उचित समझा। नीति परिवर्तन के परिणाम सहायक उपायों के साथ होंगे जिससे देश की गिरती जन्म दर को संभाला जा सके तथा देश की बढ़ती उम्र की आबादी के साथ सक्रिय रूप से मुकाबला करने और लाभ को बनाए रखने, मानव संसाधनोंकी बंदोबस्ती को पूरा करने के लिए अनुकूल होंगे। 


हाल ही में चीन के द्वारा जारी की गई जनगणना से पता चला है कि पिछले वर्ष में 12 मिलियन बच्चे पैदा हुए थे जो कि 1961 का महान अकाल के बाद सबसे कम हैं। जनगणना ने चीन की 2020 प्रजनन दर को प्रति महिला 1.3 बच्चोंं पर दिखाया है जबकि जन्म दर को बेहतर करने के लिए 2.1 का आँकड़ा जरूरी है जो इसे जापान और इटली जैसे वृद्ध समाजों के बराबर रखता है।


चीन के बारे में-

  • राजधानी- बीजिंग
  • राष्ट्रपति- शी जिनपिंग
  • मुद्रा-  रॅन्मिन्बी (Renminbi)

Also Read,