SBI PO Previous Year Question Paper- SBI PO गत वर्ष के प्रश्न पत्र, Download SBI PO Mains Previous Year Papers

SBI PO Previous Year Question Paper- SBI PO गत वर्ष के प्रश्न पत्र, Download SBI PO Mains Previous Year Papers


S
BI PO Previous year Papers: भारतीय स्टेट बैंक (State Bank of India)  कल यानी 29 जनवरी 2021 को  SBI PO मेंस परीक्षा का आयोजन कर रहा है. मेंस परीक्षा की तैयारी के लिए उम्मीदवारों  के लिए ज़रूरी है कि वे पिछले सालों के पेपर (previous year's papers) को सोल्व करें. इन Previous years’ question papers के साथ प्रैक्टिस करके आपको exam का overview भी देखने को मिलेगा. आप अपनी परीक्षा के लिए familiar हो जायेंगे और इससे आप देख सकेंगे कि questions का Pattern कैसा है, बार-बार पूछे जाने वाले important topics कौन से हैं?  आपको परीक्षा का पैटर्न, प्रश्नों का  प्रकार, परीक्षा का स्तर और अन्य महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होती हैं. हम यहाँ आपकी मदद के लिए previous year paper का डायरेक्ट लिंक दे रहे हैं, जिसकी मदद से आप गत वर्ष के पेपर से प्रैक्टिस कर सकते हैं. 

 
SBI PO: Previous Year Paper

यहाँ एसबीआई पीओ गत वर्ष प्रश्न पत्रों के direct links हैं. जिन्हें आप डाउनलोड करके प्रैक्टिस शुरू कर सकते हैं - 

  1. SBI PO Mains 2018 Memory based paper
  2. SBI PO Prelims 2018- Memory based paper with video solutions
  3. SBI PO Mains 2017- Memory Based English LANGUAGE
  4. SBI PO Mains 2018-19 Memory Based Paper
  5. SBI PO Prelims 2016 Memory Based Questions
  6. SBI PO Prelims 2016 Memory Based Solutions
  7. SBI PO Prelims 2017 Memory Based Questions
  8. SBI PO Prelims 2017 Memory Based Solutions
  9. SBI PO Prelims 2018 Memory Based Questions
  10. SBI PO Prelims 2018 Memory Based Solutions


SBI PO: Bank PO परीक्षा पैटर्न

BANK PO भर्ती तीन चरणों में पूरी होती है. सबसे पहले प्रीलिम्स परीक्षा, उसके बाद मेंस परीक्षा और अंत में सामूहिक अभ्यास (ग्रुप डिस्कशन) व इंटरव्यू की प्रक्रिया पूरी की जाएगी.

चरण-I: प्रीलिम्स परीक्षा 

प्रीलिम्स परीक्षा ऑनलाइन आयोजित होगी, जिसमें कुल 100 अंकों के प्रश्न पूछे जायेंगे. इस परीक्षा की समयसीमा 1 घंटा है. प्रीलिम्स परीक्षा का प्रश्नपत्र तीन खण्डों में विभाजित किया गया और प्रत्येक खंड के लिए अलग-अलग समयसीमा भी निर्धारित की गई है:

क्र.सं.
विषय(बहुविकल्पीय)
प्रश्नों की संख्या
कुल अंक
समयसीमा
1
English Language
30
30
20 मिनट
2
संख्यात्मक अभियोग्यता
35
35
20 मिनट
3
तार्किक योग्यता
35
35
20 मिनट
कुल
100
100
60 मिनट

प्रत्येक विषय में बैंक द्वार निर्धारित न्यूनतम अंक प्राप्त करना अनिवार्य है. इस चरण में कोई अन्य कट-ऑफ़ जारी नहीं की जाएगी. इस परीक्षा में सभी वर्गों के पर्याप्त अभ्यर्थियों को मेंस परीक्षा में बैठने का मौका दिया जाता है. चुने हुए अभ्यार्थी मेंस परीक्षा में बैठ सकते है.


चरण – II: मेंस परीक्षा पैटर्न

मेंस परीक्षा कुल 200 अंकों की है जिसकी कुल समय सीमा 3 घंटे हैं, जिसमें वैकल्पिक प्रश्नों का एक पेपर अलग से 30 मिनट का होता है. यह दोनों परीक्षाएं ऑनलाइन आयोजित की जाएँगी. अभ्यार्थी को पहले वैकल्पिक प्रश्न पत्र हल करना होगा, उसके बाद वर्णनात्मक प्रश्नों के उत्तर ऑनलाइन लिखने होंगे.

क्र.सं.
विषय (बहुविकल्पीय)
प्रश्नों की संख्या
कुल अंक
समयासीमा
1
तार्किक योग्यता और कंप्यूटर योग्यता
45
60
60 मिनट
2
English Language
35
40
40 मिनट
3
आकड़ों का विश्लेषण और व्याख्या
35
60
45 मिनट
4
साधारण अर्थव्यवस्थाबैंकिग जागरूकता
40
40
35 minutes
कुल
155
200
3 घंटे



1. वैकल्पिक परीक्षा : 
वैकल्पिक प्रश्नों के लिए 3 घंटे की समयसीमा निर्धारित की गई है. इस प्रश्नपत्र को 4 खण्डों में विभाजित किया गया है और प्रत्येक खंड की अपनी अलग समय सीमा, जिसे आप उपर्युक्त तालिका में देख सकते हैं.


2. वर्णनात्मक परीक्षा :
इस परीक्षा के लिए 30 मिनट की समयसीमा निर्धारित की गई है. यह परीक्षा अंग्रेजी भाषा पर आधारित होगी, जिसमें आपको अंग्रेजी भाषा में पत्र और निबंध लिखना होगा. इस प्रश्नपत्र में बैंक द्वारा निर्धारित न्यूनतम अंक प्राप्त करने अनिवार्य हैं.


चरण-III : इंटरव्यू 

यह फाइनल चरण है और मेंस में सफल होने वाले उम्मीदवारों को इंटरव्यू के लिए बुलाया जायेगा. इसके बाद फाइनल मेरिट लिस्ट मेंस और साक्षात्कार के अंकों को जोड़ कर तैयार की जाती है. 


पिछले वर्ष के पेपर क्यों?


1. परीक्षा पैटर्न को समझने में मिलेगी मदद:
गत वर्ष के पेपर किसी भी परीक्षा के परीक्षा पैटर्न को समझने का सबसे अच्छा तरीका है, विशेष रूप से बैंकिंग सेक्टर में सफलता के लिए गत वर्ष के पेपर से गुजरना बहुत आवश्यक है. हर साल SBI, IBPS, RRB PO आदि विभिन्न परीक्षाओं का आयोजन होता है. जिनके बारे में समझने के लिए गत वर्ष के पेपर हेल्पफुल साबित हो सकते हैं. 


2. परीक्षा के लिए Important Topics को समझने में Helpful:
गत वर्ष के पेपर की मदद से आप परीक्षा के प्रश्नों को समझ सकते हैं. इसके साथ यह आपको विभिन्न परीक्षाओं में पूछे जाने वाले  Important Topics को समझने में आपकी मदद करती है.


3. परीक्षा के Difficulty Level का विश्लेषण करने में सहायक:
गत वर्ष के पेपर की मदद से आपको परीक्षा स्तर को समझने और कठनाई स्तर का विश्लेषण करने में मदद मिलती है. साथ ही इनसे प्रैक्टिस करके आप अपनी तैयारी का विश्लेषण भी कर सकते हैं. 


4. परीक्षा के लिए अपने मजबूत और कमजोर क्षेत्रों को समझने में मदद :
इनसे आपको परीक्षा के विभिन्न पहलुओं को समझने में मदद मिलेगी. जैसे आपकी क्षमता के अनुसार परीक्षा में कौन सा सेक्शन कठिन है और आपके लिए आसान है. Previous Year Question Paper से आपको अपनी तैयारी को बेहतर दिशा देने में मदद मिलेगी, किस क्षेत्र में आपको अधिक मेहनत करनी है और किस सेक्शन को कम समय देना है.


5. टाइम मैनेज करने में मदद :
Previous Year Question Paper की मदद से आपको आगामी परीक्षा में टाइम मैनेज करने में मदद मिलेगी. बैंकिंग परीक्षाओं में सफलता के लिए टाइम मैनेज करना बहुत आवश्यक है. गत वर्ष से आपको यह समझने में मदद मिलेगी कि किस टॉपिक को कितना समय देना है. 

adda247