LOCKDOWN 4.0 : 'आत्मनिर्भर भारत' के लिए 20 लाख करोड़ रु. के आर्थिक पैकेज की घोषणा

LOCKDOWN 4.0 : 'आत्मनिर्भर भारत' के लिए 20 लाख करोड़ रु. के आर्थिक पैकेज की घोषणा



मंगलवार शाम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश को किये अपने संबोधन में उन्होंने ने Atmnirbhar bhart abhiyan शुरू करने की बात कही है. PM MODI ने अपनी स्पीच में पूरा फोकस आत्मनिर्भर भारत अभियान पर रखा. देश में कोरोना संकट से जूझने और देश को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए यह आत्मनिर्भर भारत अभियान शुरू किया जा  रहा है. इस अभियान को सफल बनाने के लिए PM मोदी ने 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज की भी घोषणा की है. जो देश की GDP का 10 प्रतिशत है. इस  पैकेज को विस्तार से वर्णन आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण(Finance Minister Nirmala Sitharaman) करेंगीं. 

Atmnirbhar bhart abhiyan के माध्यम से भारत के प्रत्येक वर्ग और स्तर के व्यक्ति को आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास किया  जायेगा. अगर देश के लोग आत्मनिर्भर होंगे तो देश भी आत्मनिर्भर होगा. इसीलिए PM ने देश वासियों से अपील भी की देशवासी आत्मनिर्भर भारत के निर्माण के लिए आगे आयें और  स्वदेशी सामान का उपयोग करें और उनका प्रचार भी करें. 

इन पांच पिलर पर खड़ी होगी आत्मनिर्भर भारत की भव्य इमारत : 

  • पहला पिलर- इकोनॉमी, जो इन्क्रीमेंटल चेंज ही नहीं, बल्कि क्वांटम जम्प लाए.
  • दूसरा पिलर- इन्फ्रास्ट्रक्चर, जो आधुनिक भारत की पहचान बने.
  • तीसरा पिलर- सिस्टम, जो बीती शताब्दी की रीति नहीं, बल्कि 21वीं शताब्दी की टेक्नोलॉजी ड्रिवन व्यवस्था पर आधारित हो.
  • चौथा पिलर- डेमोग्राफी, दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र की डेमोग्राफी आत्मनिर्भर भारत के लिए हमारी ऊर्जा का स्रोत है.
  • पांचवां पिलर- डिमांड, इसका चक्र और इसकी ताकत का उपयोग किए जाने की जरूरत है.




 Aatm Nirbar Yojana 2020 की पहल करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने और क्या कहा - 
Atmnirbhar bhart abhiyan को शुरू करने के साथ PM MODI ने उदहारण भी दिया  कि इस कोरोना संकट से पहले देश में एक भी PPE का उत्पादन नहीं होता था साथ ही  N-95 मास्क का भारत में नाममात्र उत्पादन होता था. आज स्थिति ये है कि भारत में ही हर रोज 2 लाख PPE और 2 लाख एन-95 मास्क बनाए जा रहे हैं. इसके साथ यह भी जिक्र किया कि जब गुजरात में भूकंप आया था तो कुछ नहीं बचा था. सिर्फ मलवा था. पर फिर शुरुआत हुई. गुजरात खड़ा हुआ, चलना शुरू किया और फिर रफ़्तार भी पकड़ी. Atmnirbhar bhart abhiyan को शुरू करने के लिए PM NARENDRA MODI ने देश को इस संकट के समय में मोटीवेट करने का  प्रयास भी किया. आइये जानते हैं और क्या कहा PM मोदी ने...
  • हमारा सपना आत्मनिर्भर भारत.
  • आत्मनिर्भर भारत बनने का सही समय है.
  • 21वीं सदी भारत की हो यह हमारी जिम्मेदारी है.
  • थकाना, हारना, टूटना मानव को मंजूर नहीं है.
  • हमें बचना भी है और आगे बढ़ना भी है.
  • राष्ट्र के रूप में हम अहम् मोड़ पर खड़े हैं.
  • भारत ने आपदा को अवसर में बदल दिया है.
  • भारत की प्रगति में विश्व प्रगति समाहित.
  • भारत मानव जाती के कल्याण के लिए बहुत कुछ दे सकता है.
  • जिंदगी और मौत की लड़ाई में भारत की दवाएं अहम.
  • दुनिया का भरोसा कि भारत बेहतर कर सकता है.
  • दुनिया ने भारत के कामों की तारीफ की.
  • इंटरनेशनल सोलर एलायंस और योग दिवस भारत का विश्व का उपहार है.
  • मानव जाति के कल्याण के लिए बहुत कुछ अच्छा दे सकता है.


और जानकारी के लिए -