LIC असिस्टेंट मेंस : हिंदी भाषा क्विज़ 19 दिसम्बर 2019

LIC असिस्टेंट मेंस : हिंदी भाषा क्विज़ 19 दिसम्बर 2019

आप सभी जानते हैं कि LIC प्रीलिम्स परीक्षा का रिजल्ट जारी कर दिया गया है और 22 दिसम्बर 2019 को मेंस की परीक्षा आयोजित होने वाली हैं. LIC में इस वर्ष पहली बार हिंदी भाषा को एक विषय के रूप में जोड़ा गया है, इसलिए प्रश्न पत्र में कैसे प्रश्न पूछे जायेंगे यह बताना मुश्किल है, पर अनुमान है कि परीक्षा का स्तर आसान से मध्यम के बीच होगा.परीक्षा में आपकी सफलता सुनिश्चित करने के लिए ADDA247 यहाँ, हिंदी भाषा की क्विज़ लेकर आया है. जिससे आपको मेंस परीक्षा के  लिए  हिंदी भाषा की तैयारी को पूरा कर पायेंगे. यह उन सभी उम्मीदवारों के लिए एक सुनहरा मौका है जो हिंदी के साथ स्वयं को सहज महसूस करते हैं. हम अपनी अध्ययन सामग्री की गुणवत्ता का पूरा भरोसा दिलाते हैं कि इसकी मदद से आपको सफलता अवश्य प्राप्त होगी. हमारे साथ अपनी तैयारी शुरू करें और अपनी सफलता सुनिश्चित करें. आज की इस हिंदी भाषा प्रश्नावली 19 दिसम्बर 2019 में हम आपको गद्यांशों में रिक्त स्थानों की पूर्ति  से सम्बंधित प्रश्न उपलब्ध करा रहे हैं.   

निर्देश (1-10): नीचे दिए गए परिच्छेद में कुछ रिक्त स्थान छोड़ दिए गए हैं तथा उन्हें प्रश्न संख्या से दर्शाया गया है। ये संख्याएं परिच्छेद के नीचे मुद्रित हैं और प्रत्येक के सामने (1), (2), (3), (4) और (5) विकल्प दिए गए हैं। इन पांचों में से कोई एक इस रिक्त स्थान को पूरे परिच्छेद के संदर्भ में उपयुक्त ढंग से पूरा कर देता है। आपको वह विकल्प ज्ञात करना है, और उसका क्रमांक ही उत्तर के रूप में दर्शाना है आपको दिए गए विकल्पों में से सबसे उपयुक्त का चयन करना है। 

यह बहुत पुरानी बात है। मैं उत्तर प्रदेश के एटा जिले की तहसील कासगंज के एक हाई स्कूल में सातवीं कक्षा में पढ़ता था। पढ़ता क्या था, छठी पास के करने के बाद सातवीं में (1) ही था। जुलाई का महीना था। गरमी की छट्टियों के बाद (2) खुल गया था। मेरे लिए नयी (3) की किताबें आ गयी थीं। नयी छपी हुई किताबों की गंध, जो पता नहीं,  नये कागज की होती थी या उस पर की गयी (4) में इस्तेमाल हुई स्याही की , या जिल्दसाजी में  (5) चीजों की, या बरसात के मौसम में कागज में आयी हल्की- सी (6) , मुझे बहुत अच्छी लगती थी। ज्यों ही मेरे लिए नयी (7) आतीं, मैं सबसे पहले अपनी हिंदी की पाठ्य - पुस्तक पढ़ डालता। सो एक दिन स्कूल से लौटकर मैं अपनी हिंदी की पाठ्य-पुस्तक (8) रहा था, जिसमें एक पाठ था ‘बडे भाई साहब’। पुस्तक में अवश्य ही लिखा रहा होगा कि यह एक (9) है और इसके लेखक हैं प्रेमचंद। लेकिन इस सबसे मुझे क्या! मैं तो ‘बड़े भाई साहब’(10) देखकर ही उसे पढ़ने लगा। 

Q1. 
(a) पढ़ता 
(b) आया 
(c) घुसा 
(d) पढ़ा
(e) उठा

Q2. 
(a) रास्ता 
(b) मौसम
(c) कॉलेज
(d) स्कूल
(e) शरीर

Q3. 
(a) नवीन
(b) पढ़ाई
(c) कक्षा
(d) छपाई
(e) पुरानी

Q4. 
(a) छपाई
(b) नक्काशी
(c) सजावट
(d) कसीदकारी
(e) छिड़काई

Q5. 
(a) फंसी
(b) दबी
(c) जड़ी
(d) लगी
(e) उभरी

Q6. 
(a) पीलाई
(b) सफेदी
(c) बूंदों
(d) नीलाई
(e) सीलन

Q7. 
(a) कॉपियाँ
(b) साइकिलें
(c) किताबें
(d) पेंसिलें
(e) पढ़ाइयाँ

Q8. 
(a) पढ़
(b) खोल
(c) घोट
(d) रट
(e) दिखा

Q9. 
(a) कविता
(b) कहानी
(c) उपन्यास
(d) लोककथा
(e) नसीहत

Q10. 
(a) को
(b) की तरफ
(c) को सामने
(d) को बोल
(e) शीर्षक

निर्देश (11-15): नीचे दिए गए परिच्छेद में कुछ रिक्त स्थान छोड़ दिए गए हैं तथा उन्हें प्रश्न संख्या से दर्शाया गया है। ये संख्याएं परिच्छेद के नीचे मुद्रित हैं और प्रत्येक के सामने (a), (b), (c), (d) और (e) विकल्प दिए गए हैं। इन पांचों में से कोई एक इस रिक्त स्थान को पूरे परिच्छेद के संदर्भ में उपयुक्त ढंग से पूरा कर देता है। आपको वह विकल्प ज्ञात करना है, और उसका क्रमांक ही उत्तर के रूप में दर्शाना है दिए गए विकल्पों में से सबसे उपयुक्त का चयन करना है। 

एक बार ऐसा हुआ कि गुजरात देश में बड़ा (11) अकाल पड़ा। उन दिनों गुजरात में भारवि प्रसिद्द कवि रहते थे। उन्होंने सोचा इस अकाल में चलकर राजा भोज की ही (12) लें, वह विद्वानों का आदर करता है और धन भी देता है। कवि की स्त्री को यह बात पसन्द आई और दोनों स्त्री-पुरुष राजा भोज के  (13) में जाने के लिए निकल पड़े। 
     उन दिनों न रेलें थीं, न पक्की सड़कें थी, रास्ते कच्चे थे और चोर डाकुओं और जंगली जानवरों का डर बना ही रहता था। फिर भी ये दोनों विद्वान स्त्री-पुरुष (14) करके घर से निकल चले, और अन्त में धारा नगरी में आ पहुँचे। कवि के नगर के बाहर एक मन्दिर में (15) और अपनी स्त्री से कहा- ‘‘ अब मैं राजा के पास जाता हूँ, वह कुछ धन देगा तो खाने-पीने का सामान लेता आऊँगा। तब  तक तुम यहाँ सुस्ता लो।’’ यह कहकर कवि राजदरबार की ओर चल दिया। 

Q11. 
(a) निश्चित
(b) अनिश्चित
(c) भारी
(d) हलका
(e) तेज

Q12. 
(a) शरण
(b) तरण
(c) खबर
(d) दवाई
(e) सुनवायी

Q13. 
(a) घाट
(b) गांव
(c) घरबार
(d) शहर
(e) दरबार

Q14. 
(a) सोच
(b) मिट
(c) घबरा
(d) साहस
(e) खुल

Q15. 
(a) घेरा डाला
(b) डेरा डाला
(c) प्रसाद डाला
(d) फूल डाला
(e) हार डाला


उत्तर 



‘‘यह ----------------- पढ़ने लगा।’’
S1. Ans.(b)
Sol. पढ़ता क्या था, छठी पास करने के बाद सातवीं में ‘आया’ ही था। जुलाई का महीना था। गरमी की

S2. Ans.(d)
Sol. छुट्टियों के बाद ‘स्कूल’ खुल गया था। मेरे

S3. Ans.(c)
Sol. लिए नयी ‘कक्षा’ की किताबें आ गयी थीं। नयी छपी हुई किताबों की गंध जो पता नहीं, नये कागज की होती थी या उस पर की

S4. Ans.(a)
Sol. गयी ‘छपाई’ में इस्तेमाल हुई स्याही की,

S5. Ans.(d)
Sol. या जिल्दसाजी में ‘लगी’ चीजों की, या बरसात के मौसम में कागज में आयी हल्की

S6. Ans.(e)
Sol. सी ‘सीलन’ की मुझे बहुत अच्छी लगती थी।

S7. Ans.(c)
Sol. ज्यों ही मेरे लिए नयी ‘किताबें’ आतीं, मैं सबसे पहले अपनी हिंदी की पाठ्य - पुस्तक पढ़ डालता। सो एक दिन स्कूल से लौटकर


S8. Ans.(a)
Sol. मैं अपनी हिंदी की पाठ्य - पुस्तक ‘पढ़’ रहा था। जिसमें एक पाठ था ‘बड़े भाई साहब’। पुस्तक में अवश्य ही लिखा रहा होगा कि यह एक

S9. Ans.(b)
Sol. ‘कहानी’ है और इसके लेखक हैं प्रेमचंद। लेकिन इस सबसे मुझे क्या। मैं तो बड़े भाई

S10. Ans.(e)
Sol. साहब ‘शीर्षक’ देखकर ही उसे पढ़ने लगा।

‘‘एक बार ------------------ चल दिया।’’

S11. Ans.(c)
Sol. एक बार ऐसा हुआ कि गुजरात देश में बड़ा ‘भारी’ अकाल पड़ा। उन दिनों गुजरात में भारवि बड़े भारी कवि रहते थे। उन्होंने सोचा

S12. Ans.(a)
Sol. इस अकाल में चल कर राजा भोज की ‘शरण’ लें, वह विद्वानों का आदर करता है अैर धन भी देता है। कवि की स्त्री को यह बात पसंद आई और

S13. Ans.(e)
Sol. दोनों स्त्री-पुरुष राजा भोज के ‘दरबार’ में जाने के लिए निकल पड़े।

S14. Ans.(d)
Sol. फिर भी दोनों विद्वान स्त्री-पुरुष ‘साहस’ करके घर से निकल चले, और अन्त में धारा नगरी में आ पहुँचें कवि ने नगर के बाहर एक

S15. Ans.(b)
Sol. मन्दिर मे ‘डेरा डाला’ और अपनी स्त्री से कहा- अब मैं राजा के पास जाता हूँ...............।