Only 1 Week Left | Practice Hard To Crack IBPS SO Prelims Exam | In Hindi


प्रिय विद्यार्थियों, आईबीपीएस 2018 के अनुसूची के अनुसार, IBPS Specialist Officers के लिए प्राथमिक परीक्षा 29वीं aur 30 दिसम्बर को आयोजित की जायेगी. यदि कोई उम्मीदवार इस चरण में सफलता प्राप्त करता है तो उसे परीक्षा के दूसरे चरण अर्थात IBPS SO Mains Exam में उपस्तिथि होना होगा. परीक्षा के लिए केवल दो सप्ताह के समय के साथ अब अपनी तैयारी को अंतिम स्पर्श देने का समय आ चुका है. इन शेष दिनों में आपको इस प्रकार से योजना बनानी होगी जिसमें आप समय रहते अपने पूरे पाठ्यक्रम का रिविसन कर पायें.

विद्यार्थियों, जब तक आप इस परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तब तक आपको ऐसी चीजों पर ध्यान नहीं देना चाहिए जो आपको परेशानी में डालते हैं यह केवल आपकी तैयारी से आपका ध्यान हटाने का कार्य करेंगी. आपको केवल एक नियम का पालन करना चाहिए जो कहता है, "कठिन परिस्थितियां आने पर दृढ इच्छाशक्ति वाले चुनौती का मजबूती से मुकाबला करते हैं." अब जैसा की आपकी परीक्षा के लिए केवल एक हफ्ते का समय शेष है तब आपको अपने ज्ञान का सबसे बेहतर उपयोग करना चाहिए और बेहतर तरीके से रिविसन करना चाहिए. यहाँ हमने कुछ महत्वपूर्ण बिंदु दिए हैं जिनका आपको अपनी अंतिम सप्ताह की तैयारी के दौरान अनुसरण करना होगा:

  • उन सभी विषयों को रिवाइस करें जिनमें आप उत्कृष्ट हैं. महत्वपूर्ण विषयों को एक चेकलिस्ट में क्रमबद्ध करें और परीक्षा आयोजित होने से पहले प्रत्येक बिंदु को रिवाइस करें. यह आपको परीक्षा के दौरान बहुत अधिक सहायता करेगा. 
  • इस समय पर किसी भी नए टॉपिक को न उठायें. ऐसा करने से आप खुद को उस टॉपिक में फसा हुआ पायेंगे. तो उस विषय का अध्यन कीजिये जिस विषय से आप अधिकतम अंक प्राप्त कर सकते हैं.
  • बहुत अधिक दबाव और चिंता आपके प्रदर्शन को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकती है. सकारात्मक सोच रखे ताकि आप इसमें बेहतर प्रदर्शन कर पायें.
  • परिश्रम ही सफलता की कुंजी है. यह एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है. यह आपकी ब्रेकअवे रणनीति और आपकी खुद की प्रामाणिक सफलता या इसकी कमी के लिए आपका सही मार्ग हो सकता है. अपनी तैयारी के पिछले कुछ दिनों में विषयवार प्रश्नोत्तरी का प्रयास करने के बजाय पूर्ण-लंबाई वाले मोक्स पर ध्यान केंद्रित करने का प्रयास करें.
  • सटीकता को विशेष महत्व दें जिसके साथ आप परीक्षा का प्रयास करते हैं. आपको सटीकता 95% पर रखनी होगी. यदि यह कम है तो इस पर तब तक कार्य कीजिये जब तक आपकी सटीकता 95% नहीं हो जाती.