IBPS RRB Clerk Mains 2018: Expected Level of the Examination | In Hindi

IBPS RRB Clerk Mains 2018: Expected Level of the Examination | In Hindi

प्रिय पाठकों,


क्या आप सोच रहे हैं कि इस रविवार को IBPS RRB ऑफिस सहायक मेन में क्या उम्मीद की जा सकती है? IBPS RRB Clerk Mains परीक्षा 7 अक्टूबर को आयोजित की जायेगी, अर्थात आपके पास अब अपनी तैयारी को अंतिम स्पर्श देने के लिए 5 दिन का समय शेष है. IBPS, RRB Officer Scale-I की भर्ती परीक्षा पहले ही आयोजित करवाई जा चुकी है और वे सभी उम्मीदवार जो इस परीक्षा में उपस्थित हुए उन्होंने बताया कि हिंदी भाषा, कंप्यूटर जागरूकता और सामन्य ज्ञान के खंड में बहुत से बदलाव देखे गए. 

क्या IBPS RRB Clerk Mains में सफलता प्राप्त करना कठिन होगा? सामान्य ज्ञान अनुभाग में किस परिवर्तन की उम्मीद की जा सकती है? क्या हिंदी भाषा का स्तर पिछले वर्ष के समान होगा?

इस लेख में, हम IBPS RRB PO मेन के वर्गों में किए गए परिवर्तनों का विश्लेषण करके इन सभी सवालों पर चर्चा करेंगे. आगामी बैंकिंग भर्ती परीक्षा में क्या उम्मीद की जा सकती है, इस सवाल की बात आती है कि, जवाब देने का सबसे अच्छा तरीका हालिया परीक्षाओं द्वारा स्थापित प्रवृत्ति का विश्लेषण करना और उसी स्तर और कैडर की अंतिम वर्ष की परीक्षा के साथ तुलना करना है.

हिंदी भाषा अनुभाग में कठिनाई का स्तर में वृद्धि.

हाँ, इस वर्ष आरआरबी पीओ मेन में हिंदी भाषा अनुभाग की कठिनाई के स्तर में वृद्धि हुई है, और यह संभव है कि आप आने वाले IBPS RRB Clerk Mains परीक्षा में इस खंड के प्रश्नों में एक समान पैटर्न देख सकें. इस साल आरआरबी पीओ मेन में हिंदी भाषा अनुभाग की कठिनाई के स्तर में वृद्धि हुई है, और यह संभव है कि आप आने वाले आईबीपीएस आरआरबी क्लर्क मेन परीक्षा में इस खंड के प्रश्नों में एक समान पैटर्न देखें. पिछले साल की आरआरबी पीओ मेन परीक्षा की तुलना में यह अनुभाग लंबा था. आप इस खंड में शबदावली आधारित प्रश्नों की अपेक्षा कर सकते हैं और ये विभिन्न प्रकार अर्थात Cloze Test, Identifying the incorrect word, Filler, Antonym/Synonym, और Word Replacement के रूप में पूछे जा सकते हैं. इस खंड को हल करते हुए निर्देशों को ध्यानपूर्वक पढ़ें और सतर्क होकर उत्तर चिन्हित करें.

सामन्य जागरूकता और कंप्यूटर ज्ञान में देखे गए बदलाव.

हालिया बैंकिंग परीक्षाओं द्वारा स्थापित वर्तमान प्रवृत्ति का विश्लेषण करने पर, हम निष्कर्ष निकाल सकते हैं कि उम्मीदवारों के लिए पिछले 5 से 6 महीनों के करेंट अफेयर्स का अध्यन करना महत्वपूर्ण है. इस वर्ष, भले ही वो कोई भी परीक्षा हो जैसे BOB PGDBF, IBPS RRB PO Mains या कोई अन्य परीक्षा, करेंट अफेयर्स अधिकतम पिछले 5 से 6 महीनो के मध्य से पूछे गए थे जिसके परिणामस्वरूप उम्मीदवारों को यह खंड कठिन लगा. तो आप आगामी IBPS RRB Clerk Mains परीक्षा में ऐसा ही कुछ होने की अपेक्षा कर सकते हैं. Click here to download The Hindu Reviews of last 5 months and GA Study Material for IBPS RRB Clerk Mains Exam. कंप्यूटर ज्ञान अनुभाग में पूछे गए प्रश्नों के स्तर में भी बदलाव देखा गया था. दिए गए प्रश्न लंबे थे और कंप्यूटर ज्ञान जैसे नेटवर्किंग, इंटरनेट, एमएस ऑफिस, oops की बुनियादी अवधारणाओं के सभी महत्वपूर्ण प्रश्न पूछे गए थे. तो IBPS RRB Clerk Mains परीक्षा के लिए इस विषय से संबंधित अपनी सभी अवधारणाओं को अच्छे से समझने की कोशिश कीजिये.

संख्यात्मक अभियोग्यता, तार्किक क्षमता और अंग्रेजी भाषा अनुभागों में कोई बड़ा बदलाव नहीं देखा गया

IBPS RRB PO Mains और अन्य हाल ही में आयोजित परीक्षाओं में इन तीन खंडों में पूछे गए प्रश्नों के स्तर या पैटर्न में कोई बड़ा बदलाव नहीं हुआ है. आप एक की तुलना में अन्य खंड को कठिन या आसान पा सकते हैं लेकिन पूछे जाने वाले प्रश्नों के प्रकार बैंकिंग परीक्षाओं के लिए पारंपरिक पैटर्न पर आधारित हैं. IBPS RRB Clerk Mains के लिए आप संख्याताम्क अभियोग्यता में 3-4 आंकड़ा निर्वाचन के सेट, लगभग 10 विविध अंकगणितीय शब्द समस्याएं, क्वाड्रैटिक समीकरण और असमानताओं और डेटा दक्षता आधारित प्रश्न हो सकते हैं. रीजनिंग में आप पजल के 3-4 सेट देख सकते हैं और अन्य प्रश्न मिश्रित टॉपिक से हो सकते हैं.

घबराइए मत, यह समय अभ्यास करने का है नई अवधारणाओं को सीखने का नहीं. अधिक से अधिक अभ्यास कीजिये जिस से आप अपनी गति और सटीकता में वृद्धि कर सकें. अंत में, याद रखें कि आपका समर्पण और कड़ी मेहनत निश्चित रूप से रंग लाएगी... आपको सिर्फ आत्मविश्वास और धीरज रखना होगा!!





You may also like to Read:
      

All the Best for IBPS RRB Clerk Mains!!