Saturday, 4 March 2017

SC और OBC उम्मीदवारों को निशुल्क कोचिंग : सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय का कैरियर पावर के साथ एमओयू

प्रिय पाठकों,

हमें आपको ये बताते हुए अपार हर्ष हो रहा है कि अनुसूचित जाति (SC) एवं अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) के उम्मीदवारों को बैंकिंग एवं एसएससी की निशुल्क कोचिंग उपलब्ध कराने के लिए सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय (भारत सरकार) ने Career Power (a unit of Adda247 Group) के साथ एक सहमति ज्ञापन (MoU) पर हस्ताक्षर किये हैं.


निशुल्क कोचिंग करियर पॉवर, लक्ष्मी नगर शाखा (दिल्ली) में दी जाएगी और पहला बैच मार्च 2017 के तीसरे सप्ताह से शुरू होगा. इस योजना के तहत नामांकन कराने वाले उम्मीदवारों को कक्षाएं, पुस्तकें, टेस्ट सीरीज, पत्रिका आदि निशुल्क उपलब्ध करायी जाएँगी. कोचिंग के साथ, उम्मीदवारों को यात्रा और आवास के व्यय के लिए मासिक स्टाईपेंड भी प्रदान किया जायेगा.


उम्मीदवारों के लिए पात्रता मानदंड :
  • विद्यार्थियों को संस्थान द्वारा निर्धारित शैक्षिक मानदंडों के आधार पर कोचिंग संस्थान द्वारा चुना जायेगा.
  • इस योजना के अंतर्गत एससी और ओबीसी के केवल वे उम्मीदवार ही लाभ के पात्र होंगे जिनके परिवार की सभी स्रोतों से कुल वार्षिक आय 6 लाख रु या उससे कम है. इस उद्देश्य के लिए, अभिभावकों/संरक्षकों को, राजस्व अधिकारी जो तहसीलदार रैंक से कम का न हो, से एक स्व-रोजगार का आय प्रमाणपत्र देना होगा. नियोजित (नौकरी करने वाले) माता-पिता / अभिभावक को अपने नियोक्ता से आय प्रमाण पत्र प्राप्त करना आवश्यक है, उसके बाद नियोजित माता-पिता / अभिभावक को आय के किसी भी अन्य अतिरिक्त स्रोत के लिए राजस्व अधिकारी से समेकित प्रमाण पत्र प्राप्त करना होगा, या यदि उन्हें किसी अन्य रोजगार से कोई अन्य आय न हो तो स्वयं-घोषणा पत्र दें.
  • इस योजना के अंतर्गत एक विशेष छात्र द्वारा दो बार से अधिक लाभ नहीं प्राप्त किया जा सकता है, भले ही वह किसी विशेष प्रतियोगी परीक्षा में भाग लेने के लिए कितने भी अवसरों का प्रयोग करे. कोचिंग संस्थान को भी छात्रों से एक हलफनामा लेने की आवश्यकता होगी कि वे इस योजना के अंतर्गत दो बार से अधिक लाभ नहीं लेंगे, साथ ही उनके आधार नंबर, या निर्धारित वैकल्पिक पहचान दस्तावेज लिया जायेगा.
  • जहां परीक्षा दो चरणों में अर्थात प्रारंभिक और मुख्य में आयोजित की जाती है, उम्मीदवार दोनों परीक्षाओं के लिए मुफ्त कोचिंग के लिए पात्र होंगे. वे अपनी सुविधा के मुताबिक प्रारंभिक और मुख्य परीक्षाओं में दो बार प्रत्येक के लिए मुफ्त कोचिंग का हकदार होंगे. हालांकि, यदि उम्मीदवार साक्षात्कार के लिए चयनित होता है, तो साक्षात्कार के लिए अवसरों की संख्या में कोई प्रतिबंध नहीं होगा.
  • चयनित छात्रों को सभी कक्षाओं में शामिल होना होगा. यदि कोई विद्यार्थी किसी भी वैध कारण के बिना 15 दिनों से अधिक के लिए अनुपस्थित रहता है तो, मंत्रालय को सूचना के तहत उसे मुफ्त कोचिंग का लाभ बंद कर दिया जाएगा.

विद्यार्थियों के लिए स्टाईपेंड/भत्ता :
  • बाहर के विद्यार्थियों को : 5000 रु प्रतिमाह
  • दिल्ली/एनसीआर के विद्यार्थियों को :  2500 रु प्रतिमाह
  • विकलांग छात्रों के लिए अतिरिक्त स्टाईपेंड : 2000 रु

चयन प्रक्रिया :

यदि आप इस योजना के अंतर्गत निशुल्क कोचिंग लेना चाहते हैं, कृपया अपनी विस्तृत जानकारी नीचे दिए गए फॉर्म में भरें :


हम उम्मीदवारों का चयन इस सूची से उनके अकादमिक रिकॉर्ड के अनुसार या किसी अन्य मानदंड जो करियर पॉवर एवं सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय को उचित लगेगा.

इस योजना में आवेदन करने की अंतिम तिथि 8 मार्च 2017 (बुधवार) है.

आवश्यक दस्तावेज़ :
कृपया नोट करें :
  • यह योजना गरीब और जरूरतमंद छात्रों के लिए है, वे जो लोग कोचिंग कक्षाओं का खर्च वहन नहीं कर सकते. यदि, आपकी वित्तीय स्थिति अच्छी है, कृपया इस योजना के लिए आवेदन न करें.
  • कृपया इस योजना के बारे में अपने दोस्तों एवं सोशल मीडिया पर सूचना प्रसारित करें ताकि जरूरतमंद विद्यार्थियों तक यह जानकारी पहुँच सके.






No comments:

Post a Comment