Ayushman Bharat Scheme - आयुष्मान भारत योजना (PM-JAY): पात्रता, लाभ, कवरेज, आवेदन

Ayushman Bharat Scheme - आयुष्मान भारत योजना (PM-JAY): पात्रता, लाभ, कवरेज, आवेदन



Ayushman Bharat scheme (PM-JAY): रविवार को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने उन सभी honest taxpayers को  धन्यवाद दिया और कहा कि इन्हीं honest payers की वजह से देश इतने गरीब लोगों का आरोग्य आयुष्मान भारत योजना ( Arogya Ayushman Bharat Scheme) के  तहत फ्री में स्वास्थ्य सेवा प्राप्त कर रहे हैं. Arogya Ayushman Bharat Scheme  को  सितंबर 2018 में शुरू किया गया था और अब तक इसके तहत लगभग 1 करोड़ मरीज लाभान्वित हो चुके हैं. 


Arogya Ayushman Bharat Scheme  के तहत लाभ पाने वाले लोगों में 80% मरीज ग्रामीण हैं और  50% महिलाएं  हैं. आरोग्य आयुष्मान भारत योजना के तहत ही इन सभी का इलाज किया गया है. इसके अंतर्गत सिर्फ  दवा से इलाज नहीं बल्कि 70% लाभार्थियों ने सर्जिकल उपचार भी करवाया  है. 


Arogya Ayushman Bharat yojana  को दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य सेवा योजना के रूप में जाना जाता है और इसका उद्देश्य उन रोगियों का इलाज करना है जो गरीब हैं और उन्हें स्वास्थ्य सेवाओं की आवश्यकता है.



प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत लाभ (Benefits Cover Under PM-JAY)

PM-JAY देश भर में माध्यमिक और तृतीयक स्वास्थ्य सेवाओं की शर्तों के लिए प्रत्येक पात्र परिवार के लिए प्रति वर्ष 5,00,000 तक के कैशलेस कवर की अनुमति देता है और इस योजना के तहत सेवाएं पोर्टेबल हैं. योजना के तहत निम्न उपचार मुफ़्त में उपलब्ध हैं 
  • चिकित्सिक परीक्षा, उपचार और परामर्श(Medical examination, treatment and consultation)
  • अस्पताल में भर्ती होने से पूर्व का ख़र्चा(Pre-hospitalization)
  • दवाइयाँ और चिकित्सा (Medicine and medical consumables)
  • गैर-गहन और गहन स्वास्थ्य सेवाएँ(Non-intensive and intensive care services)
  • नैदानिक और प्रयोगशाला जांच(Diagnostic and laboratory investigations)
  • चिकित्सा आरोपण सेवाएं (जहां आवश्यक हो) (Medical implantation services (where necessary))
  • अस्पताल में रहने का ख़र्चा(Accommodation benefits)
  • अस्पताल में खाने का ख़र्चा (Food services)
  • उपचार के दौरान उत्पन्न होने वाली जटिलताएँ (Complications arising during treatment)
  • अस्पताल में भर्ती होने के बाद 15 दिनों तक की देखभाल (Post-hospitalization follow-up care up to 15 days)

आयुष्मान भारत योजना- पात्रता और आवेदन (Eligibility and Application)

जो लोग इस योजना के तहत सुविधाएं प्राप्त करना चाहते हैं और ई-कार्ड प्राप्त करना चाहते हैं, वे निकटतम empanelled Hospital में जा कर पता लगा सकते है. इसके अलावा 1800 111 565 या 14555 पर कॉल कर सकते हैं.


प्रारंभ में, आपको यह जांचने की आवश्यकता है कि आप सुविधा के लिए पात्र हैं या नहीं, details और आधार जैसे दस्तावेज की मदद से सत्यापन होगा. चूंकि यह योजना समाज के गरीब तबके के लोगों के लिए है, इसलिए सही व्यक्ति को ई-कार्ड मिल रहा है या नहीं, इसकी जांच के लिए उचित सत्यापन किया जाएगा.


ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों को इन पात्रता मापदंडों(eligibility criteria) को पूरा करने की आवश्यकता है:
  • अनुसूचित जनजाति और अनुसूचित जाति
  • वो परिवार जिसमें 16 वर्ष से 59 वर्ष के बीच के किसी पुरुष सदस्य का support नहीं है. 
  • भिखारी और ऐसे ही लोग
  • जिन परिवारों में उचित फिटनेस के साथ कोई वयस्क नहीं है. 
  • भूमि विहीन परिवार
  • आदिवासी समुदाय
  • बंधुआ मजदूर
  • जिन परिवारों के पास उचित घर नहीं हैं
  • मेहतर परिवार

शहरी स्थानों के मामले में, जो लोग आरोग्य आयुष्मान भारत योजना के लिए पात्र हैं:
  • चौकीदार या धोबी
  • Ragpickers
  • इलेक्ट्रीशियन, मरम्मत कर्मचारी, और यांत्रिकी
  • घरेलू मदद
  • स्वीपर, माली, और सफाई कर्मचारी
  • दर्जी, दस्तकारी काम करने वाले या घर पर रहने वाले कारीगर
  • हॉकर्स और कोबलर्स
  • सुरक्षा गार्ड, चित्रकार, वेल्डर, पोर्टर्स, निर्माण श्रमिक, राजमिस्त्री, और प्लंबर
  • रिक्शा चालक, कंडक्टर, ड्राइवर और मददगार जैसे परिवहन कर्मचारी
  • वेटर, दुकानदार, डिलीवरी बॉय, चपरासी और सहायक

यहां उन लोगों की एक सूची दी गई है, जिन्हें आरोग्य आयुष्मान भारत योजना की सुविधाएं नहीं मिल रही हैं:
  • ऐसे लोग जिनके पास दोपहिया, चारपहिया या यहाँ तक कि मछली पकड़ने वाली नाव है, जो मोटर चालित हैं
  • ऐसे परिवार जिनके पास खेती के लिए उचित यंत्रीकृत उपकरण हैं
  • जिन लोगों के पास 50,000 रु. किसान कार्ड में 
  • जो लोग भारत सरकार के अधीन कार्यरत हैं
  • ऐसे लोग जिनके पास सरकार द्वारा प्रबंधित गैर-कृषि उद्यमों के तहत एक सेवा है
  • जिन लोगों की न्यूनतम आय रु 10,000 प्रति माह से कम
  • जिन परिवारों के पास लैंडलाइन और रेफ्रिजरेटर की सुविधाएं हैं
  • परिवार जो उचित घरों में रहते हैं
  • ऐसे लोग जिनके पास न्यूनतम 5 एकड़ की कृषि भूमि है

इस योजना के तहत मरीजों को प्रोस्टेट कैंसर, डबल वॉल्व रिप्लेसमेंट, पल्मोनरी वॉल्व रिप्लेसमेंट, गैस्ट्रिक पुल-अप, टिशू एक्सपेंसर, और इसी तरह के अन्य के साथ लैरींगोफेरीन्जॉक्टमी का उपचार मिल सकता है.

Click Here to Register for Bank Exams 2020 Preparation Material

Visit Achieversadda.com and participate in discussions with other aspirants and achievers. Get answers to your queries and connect with others on Achieversadda.com

You may also like to practice with: