केन्द्रीय बजट 2020-2021: महत्वपूर्ण बिंदु ( Key Highlights)

केन्द्रीय बजट 2020-2021: महत्वपूर्ण बिंदु ( Key Highlights)


UNION BUDGET 2020 Key Highlights: माननीय केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लगातार दूसरी बार संसद में केंद्रीय बजट 2020 पेश किया. 'केंद्रीय बजट' एक वार्षिक वित्तीय रिपोर्ट होती है, जिसमें सतत विकास और विकास के लिए सरकार द्वारा अपनाई जाने वाली भविष्य की नीतियों को शुरू करने के लिए प्रस्तुत आय और व्यय का आकलन किया जाता है. भारत के मुख्य आर्थिक सलाहकार कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यम द्वारा 31 जनवरी 2020 को आर्थिक सर्वेक्षण 2019-20 जारी किया गया था.  इस पोस्ट में, हम संसद में आज पेश किए जाने वाले केंद्रीय बजट 2020-21 के अपडेट्स और Key Highlights दे रहे हैं.  

 केंद्रीय बजट विषय "एस्पिरेशनल इंडिया"/“Aspirational India” में कृषि, सिंचाई और ग्रामीण विकास, कल्याण पानी और स्वच्छता, शिक्षा  से संबंधित कार्यक्रम और योजनाएँ शामिल होंगी.

निर्मला सीतारमण लगातार दूसरी बार बजट पेश करने वाली पहली महिला वित्त मंत्री हैं. उनसे पहले इंदिरा गांधी ने एक बार फरवरी 1970 में बजट पेश किया था.

निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण में कहा कि GST को बनाने वाले आज हमारे साथ नहीं हैं, मैं अरुण जेटली जी को श्रद्धांजलि देती हूं. देश के लोगों की सेवा के लिए हमारी सरकार ने एक देश एक टैक्स नियम लागू करने का फैसला लिया. जीएसटी का कलेक्शन लगातार बढ़ रहा है और हाल ही में इसने 1 लाख करोड़ रुपये का आंकड़ा पार किया है.  

 Union Budget 2020-21 के अनुसार किस पर, कितना खर्च  



Budget एक नज़र में : 

इस दिए गये official graphic में देखें पूरा बजट :

आम बजट 2020 के  महत्वपूर्ण बिंदु  (UNION BUDGET 2020 KEY HIGHLIGHTS)

1. टैक्स स्लैब में बदलाव, मिडिल क्लास को बड़ी राहत

टैक्स स्लैब को लेकर मोदी सरकार ने बड़ा ऐलान किया है. करदाताओं को राहत देते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि अब

5 से 7.5 लाख रुपये की कमाई तक 10 फीसदी टैक्स देना होगा.

7.5 से 10 लाख रुपये की कमाई तक 15 फीसदी टैक्स देना होगा.

10 से 12.5 लाख रुपये की कमाई तक 20 फीसदी टैक्स देना होगा.

12.5-15 लाख रुपये तक की कमाई तक 25 फीसदी टैक्स देना होगा.

ये है नई  INCOME TAX SLAB : 

  1. LIC में अपनी कुछ हिस्सेदारी बेचेगी सरकार
    1. 
    निर्मला सीतारामन ने अपने भाषण में यह घोषणा की कि सरकार LIC में अपनी हिस्सेदारी को बेचेगी.  15वें वित्त आयोग ने अपनी रिपोर्ट दे दी है, जिसे सरकार ने स्वीकार कर लिया है.
    2. वित्त मंत्री ने कहा कि
    2020-21 के लिए GDP का अनुमान 10 फीसदी का है. इस वित्तीय वर्ष में खर्च का अनुमान 26 लाख करोड़ रुपये का है.
  2. बजट 2020-2020 में इंडियन इस्टीट्यूट ऑफ कल्चर बनाने का प्रस्ताव पेश किया गया है, जिसके तहत देश में कुछ आइकॉनिक म्यूज़ियम बनाए जाएंगे, जिसमें मेरठ जिले का हस्तिनापुर, राखीघड़ी, हस्तिनापुर, शिवसागर, धोलावीरा गुजरात, तमिलनाडु के आदिचनल्लूर गांव भी शामिल है.
  3. ऐतिहासिक धरोहर के लिए 3000 करोड़ का पैकेज दिया जाएगा. बड़े शहरों में स्वच्छ हवा के लिए 4400 करोड़ रुपये का ऐलान किया गया है.

    IDBI बैंक की शेष पूंजी को स्टॉक एक्सचेंज में बेचा जाएगा. वित्त मंत्री ने ऐलान किया कि बैंकों में लोगों की जमा 5 लाख रुपये तक की राशि अब सुरक्षित रहेगी. पहले ये सीमा सिर्फ 1 लाख रुपये की थी.
  4. मैन्युफेक्चरिंग हब बनेगा भारत : 
    वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण में कहा कि इन्वेस्टमेंट क्लियरंस सेल का गठन जिसके जरिए, इन्वेस्टमेंट करने वालों की मदद की जाएगी. अगले पांच साल में 100 लाख करोड़ रुपये का निवेश होने का टारगेट है. इलेक्ट्रॉनिक मैन्यूफैक्चरिंग इंडस्ट्री के लिए सरकार की ओर से नई स्कीम का ऐलान किया गया है. इसमें मोबाइल, इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफेक्चर को बढ़ावा दिया जाएगा. हर जिले में एक्सपोर्ट हब बनाने के लिए योजना चलाई जाएगी.

  5. देश में बनेंगे 100 हवाईअड्डे:
    देश में इंफ्रास्ट्रकचर को बढ़ावा देने के लिए सरकार बड़ा निवेश करेगी. 6000 किमी. वाले हाइवे को मॉनिटाइज किया जाएगा, देश में 2024 तक 100 नए हवाई अड्डे बनाए जाएंगे. 24000 किमी. ट्रेन को इलेक्ट्रॉनिक बनाया जाएगा. ट्रांसपोर्ट में 1.70 लाख करोड़ रुपये का इनवेस्ट किया जाएगा.
    तेजस ट्रेन की संख्या को बढ़ाया जाएगा. 
    मॉर्डन रेलवे स्टेशन, हवाई अड्डे, बस स्टेशन, लॉजिस्टिक सेंटर्स बनाए जाएंगे.दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे, चेन्नई-बेंगलुरु एक्सप्रेस-वे को जल्द ही पूरा किया जाएगा. जल विकास मार्ग को बढ़ाया जाएगा, इस मार्ग को असम तक बढ़ाने की योजना है.
  6. लड़कियों के मातृत्व की आयु के लिए टास्क फ़ोर्स करेगी रिपोर्ट तैयार : 

    1
    . एक लाख ग्राम पंचायत को इस साल ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ा जाएगा. भारत नेट योजना के तहत 6000 करोड़ रुपये का ऐलान किया गया है. 2. बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना को काफी समर्थन मिला, इस योजना के जरिए बाल अनुपात में बढ़ा अंतर देखने को मिला है. 10 करोड़ परिवारों के न्यूट्रिशन की जानकारी दी जाएगी.  6 लाख से अधिक आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्टफोन दिया गया.3. महिलाओं की शादी की उम्र  की ही तरह लड़कियों के मातृत्व की आयु के लिए एक टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा जो 6 महीने में इस मुद्दे पर रिपोर्ट तैयार करेगी.
  7. शिक्षा में सुधार के लिए हर जिले में मेडिकल कॉलेज:
    1. सरकार की ओर से जल्द ही नई शिक्षा नीति की घोषणा की जायेगी. देश में ऑनलाइन डिग्री लेवल प्रोग्राम चलाए जाएंगे. 
    2. जिला अस्पतालों में अब मेडिकल कॉलेज बनाने की योजना होगी. लोकल बॉडी में काम करने के लिए युवा इंजीनियर्स को इंटर्नशिप की सुविधा दी जाएगी. उच्च शिक्षा को बेहतर बनाने के लिए सरकार काम कर रही है, विश्व के छात्रों को भारत में पढ़ने के लिए सुविधाएं दी जाएंगी. 
    3. भारत के छात्रों को भी एशिया, अफ्रीका के देशों में भेजा जाएगा. राष्ट्रीय पुलिस विश्वविद्यालय, राष्ट्रीय न्यायिक विज्ञान विश्वविद्यालय बनाने का प्रस्ताव रखा गया है. डॉक्टरों के लिए एक ब्रिज प्रोग्राम शुरू किया जाएगा.
  8. स्वास्थ्य योजनाओं के लिए 70 हजार करोड़  का ऐलान

  1. फिट इंडिया को मूवमेंट को बढ़ावा देने के लिए सरकार बड़ा कदम उठा रही है. आयुष्मान भारत योजना में अस्पतालों की संख्या को बढ़ाया जाएगा, ताकि T-2, T-3 शहरों में मदद पहुंचाई जाएगी. 
  2. इसके लिए PPP मॉडल से मदद ली जाएगी, जिसमें 2 फेज़ में अस्पतालों को जोड़ा जाएगा. केंद्र सरकार की ओर से चलाए जा रहे इंद्रधनुष मिशन का विस्तार किया जाएगा.
  3. मेडिकल डिवाइस पर जो भी टैक्स मिलता है, उसका इस्तेमाल मेडिकल सुविधाओं को बढ़ावा देने के लिए किया जाएगा. TB के खिलाफ देश में अभियान शुरू किया जाएगा, ‘टीबी हारेगा, देश जीतेगा’. सरकार की ओर से देश को 2025 तक टीबी मुक्त करने की कोशिश है. प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के तहत केन्द्रों की संख्या को बढ़ाया जाएगा.


    9 . मनरेगा में जुड़ेगा चारागाह, मछली पालन के लिए वित्त मंत्री ने किया बड़ा ऐलान

    1.  किसानों के अनुसार से एक जिला, एक उत्पाद पर फोकस किया जाएगा. जैविक खेती के जरिए ऑनलाइन मार्केट को बढ़ाया जाएगा.
    2.  किसान क्रेडिट कार्ड योजना को 2021 के लिए बढ़ाया जाएगा. दूध के उत्पादन को दोगुना करने के लिए सरकार की ओर से योजना चलाई जाएगी.
    3.  मनरेगा के तहत चारागाह को लाया जाएगा. ब्लू इकॉनोमी के जरिए मछली पालन को बढ़ावा दिया जाएगा. फिश प्रोसेसिंग को बढ़ावा दिया जाएगा.
    4. किसानों को दीन दयाल योजना के तहत दी जाने वाली मदद को बढ़ाया जाएगा.


    10 . किसानों के लिए बड़ा ऐलान, बजट में पेश किया 16 सूत्रीय फॉर्मूला
    किसानों के लिए बड़ा ऐलान करते हुए निर्मला सीतारमण ने कहा कि हमारी सरकार किसानों के लिए 16 सूत्रीय फॉर्मूले का ऐलान करती है, जिससे किसानों को फायदा पहुंचाएगा.
    1.  मॉर्डन एग्रीकल्चर लैंड एक्ट को राज्य सरकारों द्वारा लागू करवाना.
    2. 100 जिलों में पानी की व्यवस्था के लिए बड़ी योजना चलाई जाएगी, ताकि किसानों को पानी की दिक्कत ना आए.
    3. पीएम कुसुम स्कीम के जरिए किसानों के पंप को सोलर पंप से जोड़ा जाएगा. इसमें 20 लाख किसानों को योजना से जोड़ा जाएगा. इसके अलावा 15 लाख किसानों के ग्रिड पंप को भी सोलर से जोड़ा जाएगा. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार की ओर से किसानों के लिए बड़ी योजनाओं को लागू किया गया है. सरकार की ओर से कृषि विकास योजना को लागू किया गया है, पीएम फसल बीमा योजना के तहत करोड़ों किसानों को फायदा पहुंचा .
    4. सरकार का लक्ष्य किसानों की आय दोगुना करना है. किसानों की मार्केट को खोलने की जरूरत है, ताकि उनकी आय को बढ़ाया जाएगा.


    11. अब विमान से जाएगा किसानों का सामान, वित्त मंत्री का बड़ा ऐलान
    1.    फर्टिलाइजर का बैलेंस इस्तेमाल करना, ताकि किसानों को फसल में फर्टिलाइजर के इस्तेमाल की जानकारी को बढ़ाया जा सके.
    2.    देश में मौजूद वेयर हाउस, कोल्ड स्टोरेज को नबार्ड अपने अंडर में लेगा और नए तरीके से इसे डेवलेप किया जाएगा. देश में और भी वेयर हाउस, कोल्ड स्टोरेज बनाए जाएंगे. इसके लिए PPP मॉडल अपनाया जाएगा.
    3.    महिला किसानों के लिए धन्य लक्ष्मी योजना का ऐलान किया, जिसके तहत बीज से जुड़ी योजनाओं में महिलाओं को मुख्य रूप से जोड़ा जाएगा.4.    कृषि उड़ान योजना को शुरू किया जाएगा. इंटरनेशनल, नेशनल रूट पर इस योजना को शुरू किया जाएगा.
    5.    दूध, मांस, मछली समेत खराब होने वाली योजनाओं के लिए रेल भी चलाई जाएगी.


    12. मोदी सरकार की अगुवाई में देश में बढ़ा FDI:

    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमणवित्त मंत्री ने अपने भाषण में कहा कि
    हमारी सरकार सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास की नीति पर आगे बढ़ रही है. 
    भारत आज दुनिया में बढ़ती हुई अर्थव्यवस्थाओं की अगुवाई क रहा है. 2014 से 2019 के बीच
    मोदी सरकार की नीतियों की वजह से 284 बिलियन डॉलर की FDI आई, जिसने कारोबार को बढ़ाया.
  4. वित्त मंत्री ने कहा कि अर्थव्यवस्था की बुनियाद मजबूत है. बैंकों में भी सुधार हुआ है. महंगाई काबू में है.  
  5. 10 लाख रुपए से 20 लाख तक की आय पर टैक्स 20% से घटाकर 10% किया जा सकता है
  6. 80 C के तहत डिडक्शन 1.5 लाख रुपए से बढ़ाकर 2.5 लाख रुपए हो सकता है
  7. केंद्र सरकार का ऋण घटकर अब 48.7 फीसदी पर आ गया है. इस बजट में तीन बिंदुओं पर फोकस किया जा रहा है, इनमें उम्मीदों का भारत, इकोनॉमिक डेवलेपमेंट और केयरिंग समाज को शामिल किया जा रहा है. इस दौरान निर्मला सीतारमण ने कश्मीरी में एक शेर पढ़ा.
  8. उन्होंने भाषण में कहा कि हमारा वतन खिलते हुए शालीमार बाग जैसे, हमारा वतन डल झील में खिलते हुए कमल जैसा, नौजवानों के गर्म खून जैसा, मेरा वतन-तेरा वतन-हमारा वतन-दुनिया का सबसे प्यारा वतन.