LIC असिस्टेंट मेंस : हिंदी भाषा क्विज़ 13 दिसम्बर 2019

LIC असिस्टेंट मेंस : हिंदी भाषा क्विज़ 13 दिसम्बर 2019


आप सभी जानते हैं कि LIC प्रीलिम्स परीक्षा का रिजल्ट जारी कर दिया गया है और 22 दिसम्बर 2019 को मेंस की परीक्षा आयोजित होने वाली हैं. LIC में इस वर्ष पहली बार हिंदी भाषा को एक विषय के रूप में जोड़ा गया है, इसलिए प्रश्न पत्र में कैसे प्रश्न पूछे जायेंगे यह बताना मुश्किल है, पर अनुमान है कि परीक्षा का स्तर आसान से मध्यम के बीच होगा.परीक्षा में आपकी सफलता सुनिश्चित करने के लिए ADDA247 यहाँ, हिंदी भाषा की क्विज़ लेकर आया है. जिससे आपको मेंस परीक्षा के  लिए  हिंदी भाषा की तैयारी को पूरा कर पायेंगे. यह उन सभी उम्मीदवारों के लिए एक सुनहरा मौका है जो हिंदी के साथ स्वयं को सहज महसूस करते हैं. हम अपनी अध्ययन सामग्री की गुणवत्ता का पूरा भरोसा दिलाते हैं कि इसकी मदद से आपको सफलता अवश्य प्राप्त होगी. हमारे साथ अपनी तैयारी शुरू करें और अपनी सफलता सुनिश्चित करें. आज की इस हिंदी भाषा प्रश्नावली 13 दिसम्बर 2019 में हम आपको अपठित गद्यांश से सम्बंधित प्रश्न उपलब्ध करा रहे हैं.   


Directions (1-10) नीचे दिए गए गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढ़िए और उस पर आधारित प्रश्नों के उत्तर दीजिए।

शिक्षक को अपना उत्तरदायित्व समझना होगा। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग तथा विभिन्न राज्य सरकारों ने शिक्षकों के वेतनमानों में पर्याप्त सुधार किए हैं, अनेक अतिरिक्त सुविधाएँ प्रदान की हैं, इसलिए वे अब यह तर्क नहीं दे सकते कि उन्हें आजीविका की चिन्ता में छात्रों के हित को सोचने का अवसर नहीं मिल पाता। यदि उन्हें समाज में सम्मान पाना है, छात्रों की श्रद्धा पानी है, तो प्राचीन गुरुकुल पद्धति से कुछ गुण ग्रहण करने होंगे। शिक्षा कोई व्यवसाय नहीं है जहाँ हमेशा लाभ पर दृष्टि टिकी रहती है। यह तो धर्मक्षेत्र है, विश्व, देश, समाज और जन-जन का उत्थान शिक्षकों पर निर्भर रहता है। नई पीढ़ी को शिक्षक जिस मार्ग पर चलाना चाहेंगे, उसी राह पर वे चलेंगे, नहीं चलाएँगे, तो वे नहीं चलेंगे, भटकाएँगे, तो भटक जाएँगे, उठाएँगे तो उठेंगे। छात्र तो क्यारी के कोमल फूल होते हैं और शिक्षक उनके माली। माली यदि समय पर उन्हें खाद-पानी देंगे, तो वे खिलेंगे, नहीं देंगे, तो वे मुरझा जाएँगे। शिक्षकों को तप, त्याग, नि:स्वार्थ भावना आदि सद्गुणों का महत्त्व समझना होगा। जब शिक्षक इन गुणों को अपने भीतर विकसित करेंगे, तभी वे अपने छात्रों को इन गुणों को थाती के रूप में सौंप सकेंगे। शिक्षक-छात्र सम्बन्ध में मधुरता केवल शिक्षक और छात्र को ही सन्तोष नहीं देगी, उनके परिवारों और आसपास को भी प्रभावित करेगी। स्वस्थ मन के नागरिक उत्पन्न करने के लिए शिक्षक-छात्र सम्बन्धों का स्वस्थ होना आवश्यक है।

Q1. छात्रों को शिक्षा प्रदान करना शिक्षक का
(a) व्यवसाय है
(b) वैशिष्ट्य है
(c) व्यसन है
(d) धर्म है
(e) इनमें से कोई नहीं

Q2. शिक्षक नई पीढ़ी के लिए प्रेरणा-स्रोत तभी बन सकता है, जब वह
(a) शिक्षक-छात्र सम्बन्धों में मधुरता का समावेश करे
(b) तप, त्याग आदि सद्गुणों का महत्त्व समझे
(c) अपने अन्दर सद्गुणों की शिक्षा दे
(d) विद्यार्थियों को सद्गुणों की शिक्षा दे
(e) इनमें से कोई नहीं

Q3. शिक्षक की मुख्य चिन्ता होनी चाहिए
(a) वेतनमानों में सुधार
(b) अपने परिवार का भरण-पोषण
(c) भोग-विलास की सामग्री जुटाना
(d) समुचित शिक्षा के द्वारा छात्रों का अधिकाधिक हित साधन
(e) इनमें से कोई नहीं

Q4. उपर्युक्त अवतरण का सर्वाधिक उपयुक्त शीर्षक है
(a) शिक्षक-छात्र सम्बन्ध
(b) शिक्षक और उसका व्यवसाय
(c) शिक्षक का उत्तरदायित्व
(d) शिक्षक और समाज
(e) इनमें से कोई नहीं

Q5. शिक्षक का मुख्य कर्त्तव्य है
(a) छात्रों को पुस्तकीय ज्ञान प्रदान करना
(b) छात्रों की सर्वतोमुखी प्रतिभा का विकास करना
(c) छात्रों का चारित्रिक विकास
(d) समाज-कल्याण
(e) इनमें से कोई नहीं

Directions (6-10) नीचे दिए गए गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढ़िए और उस पर आधारित प्रश्नों के उत्तर दीजिए।   
कवि अपनी कल्पना के पंखों से इसी विश्व के गीत लेकर अनन्त आकाश में उड़ता है और उन्हें मुक्त व्योम में बिखरा कर अपने भाराक्रान्त हृदय को हल्का कर फिर अपने विश्वनीड़ में लौट आता है। इसी से कवि को विश्राम और स्वास्थ्य मिलता है और स्वस्थ होकर वह नूतन प्रभात में नूतन हृदय में नित्य नूतन संसार का स्वागत करता है। यदि ऐसा न हो तो कवि भी अन्य सांसारिक प्राणियों की भाँति ही, विश्व के कोलाहल में अपने आप को खो दे तथा उसके द्वारा संसार को वे अमृत गीत न मिलें जिनके सरल शीतल स्रोत में बहकर मानव-जगत् अपने सन्तप्त प्राणों को कुछ क्षण जुड़ा लेता है।

Q6. संसार में कवि का हृदय भाराक्रान्त होता है क्योंकि
(a) उसे हर समय सांसारिक दुःख-द्वन्द्वों से गुजरना पड़ता है
(b) उसे घर-गृहस्थी का भार ढोना पड़ता है
(c) अनेक तरह के भावों और विचारों का द्वन्द्व उसके मन में होता रहता है
(d) कविता के भावों से उसका हृदय भरा रहता है जिनकी अभिव्यक्ति के लिए उसका कल्पनालोक में विचरण आवश्यक होता है
(e) इनमें से कोई नहीं

Q7. 'व्योम' शब्द के लिए पर्यायवाची शब्द है
(a) पाताल
(b) आकाश
(c) स्वर्ग
(d) लोकातीत
(e) इनमें से कोई नहीं

Q8. उपर्युक्त अवतरण का उपयुक्त शीर्षक होगा
(a) कल्पनालोक का प्राणी कवि
(b) अमृतगीत का रचयिता कवि
(c) कवि और उसका निराला संसार
(d) संसार को कवि का अवदान
(e) इनमें से कोई नहीं

Q9. कवि कल्पना के अनन्त आकाश में इसलिए उड़ता है कि
(a) उसका हृदय भाराक्रान्त होता है
(b) वह संसार से दूर भागना चाहता है
(c) वह मुक्त व्योम को अपना गीत सुनाना चाहता है
(d) कल्पना-लोक में विचरण करना कवि के व्यापार का मुख्य अंग है
(e) इनमें से कोई नहीं

Q10. यदि कवि अपने कल्पना-लोक में विचरण न करता, तो
(a) उसका जीवन संसार में दूभर हो जाता
(b) वह संसार में अपना अस्तित्व खो बैठता
(c) वह संसार को सुंदर काव्य रचनाएँ न दे पाता
(d) संसार कवि की कविता से वंचित होकर रहने योग्य स्थान न रह जाता
(e) इनमें से कोई नहीं

Directions (11-15) नीचे दिए गए गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढ़िए और उस पर आधारित प्रश्नों के उत्तर दीजिए।   
बहादुरशाह की विदा की सवारी दिल्ली से निकल रही थी। सड़क पर अपार भीड़ थी। दिल्ली की गलियाँ और कूचे सूने हो गए थे। लाखों आँखें सम्राट के मुख पर जमी हुई थीं। एक-एक आँख से आँसुओं की धारा बही चली आ रही थी। सहस्रों आँखों के आँसू बहादुरशाह की एक-एक आँख में भरे थे। उनके धूल-धूसरित मुख पर खिंची हुई वेदना की काली लहरें चारों ओर शोक का प्रलय बरसा रही थीं। दिल्ली रो रही थी, दिल्ली के लोग रो रहे थे और बहादुरशाह उजड़ी राजधानी का बन्दी बादशाह सदा के लिए चला जा रहा था। अपने देश से दूर, जहाँ उसका अपना कोई न था। दिल्ली से रंगून ले जाकर वह तंग और अँधेरी कोठरी में डाल दिया गया। वह दिनभर अपनी कोठरी में पड़ा-पड़ा हुक्का गुड़गुड़ाया करता था। न वह किसी से बोलता था, न उससे कोई बोलता था।

Q11. दिल्ली की गलियाँ-कूचे इसलिए खाली हो गए थे, क्योंकि
(a) गलियों-कूचों में कोई न था
(b) बहादुरशाह की सवारी निकल रही थी
(c) सड़क पर अपार भीड़ जमा हो गई थी
(d) बहादुरशाह को देखने लोग सड़क पर आ गए थे
(e) इनमें से कोई नहीं

Q12. सड़क पर लोगों ने देखा और देखते ही रह गए
(a) बादशाह का विवर्ण मुख
(b) बादशाह की सवारी
(c) सड़क की भीड़
(d) गलियों-कूचों का खाली होना
(e) इनमें से कोई नहीं

Q13. दिल्ली के लोग रो रहे थे
(a) शाही सवारी देखकर
(b) बहादुरशाह का पीला मुख देखकर
(c) बन्दी बादशाह की विदाई देखकर
(d) प्रतिकूल स्थिति देखकर
(e) इनमें से कोई नहीं

Q14. बहादुरशाह की अन्तिम परिणति थी
(a) वह अपने में खो गया
(b) वह हुक्का गुड़गुड़ाता रहा
(c) वह न किसी से बोलता था, न उससे कोई बोलता था
(d) उसे अज्ञातवास में भेज दिया गया
(e) इनमें से कोई नहीं

Q15. बहादुरशाह उजड़ी राजधानी का_______सदा के लिए चला जा रहा था।
(a) बन्दी बादशाह
(b) राजा
(c) शहंशाह
(d) मालिक
(e) इनमें से कोई नहीं


 उत्तर



S1. Ans.(d)
S2. Ans.(c)
S3. Ans.(d)
S4. Ans.(c)
S5. Ans.(c)
S6. Ans.(d)
S7. Ans.(b)
S8. Ans.(a)
S9. Ans.(d)
S10. Ans.(c)
S11. Ans.(d)
S12. Ans.(a)
S13. Ans.(c)
S14. Ans.(c)
S15. Ans.(a)