त्योहारों के इस मौसम में अध्ययन पर ध्यान केन्द्रित कैसे करें!

त्योहारों के इस मौसम में अध्ययन पर ध्यान केन्द्रित कैसे करें!



त्योहारों के देश भारत में आये दिन कोई न कोई त्यौहार होता है, लेकिन कुछ त्यौहार ऐसे होते हैं जिन्हें पूरा देश धूमधाम से मनाता है, ऐसे में कई बार परीक्षा की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों की राह में त्यौहार बाधा बन जाते हैं जो उनके अध्ययन की दिनचर्या को प्रभावित करते हैं। अभी दिवाली जैसे बड़े त्यौहार का मौसम चल रहा हैं जिसमें आतिशबाजी, खाना, घूमना और शोर-शराबा आदि आपको अपनी तरफ आकर्षित करता है, उत्सव में लोग मिलते-जुलते हैं जिससे आपका वक्त बर्बाद होता है ऐसे में आपको ऐसी स्ट्रेटेजी बनानी चाहिए, जिससे आपकी पढ़ाई में कोई बुरा असर न पढ़े।

उत्सव की मस्ती में अध्ययन करने का मन नहीं करता है। लेकिन अगर एक अच्छी रणनीति बनाते हैं तो उसके माध्यम से आप मस्ती और पढ़ाई दोनों कर सकते हैं। आपको अपनी अध्ययन योजना के अनुसार नियमित अभ्यास करना चाहिए और बचे हुए समय में आराम से उत्सव मना सकते हैं। सुनिश्चित करें कि आप अपना समय विभाजित करें और पढ़ाई और त्योहार के उत्सव के बीच संतुलन बनाएं ताकि आनंद के साथ-साथ आप आगामी परीक्षाओं के लिए लिए खुद को तैयार भी कर सकें।

यहां हम त्यौहारी सीज़न के दौरान खुद को प्रेरित रखने के लिए कुछ बिंदुओं को साझा कर रहे हैं ताकि आपको आगामी परीक्षाओं के लिए अभ्यास करने में किसी भी समस्या का समाना न करना पड़े।

प्लानिंग : 
जैसा कि हर कोई रोशनी के त्यौहार में अच्छा समय बिताना चाहता है। लेकिन हर गतिविधि को संतुलित करने की अवश्य है। व्यक्ति को अपने महत्वपूर्ण कार्य को प्राथमिकता देना चाहिए और उसी के अनुसार उत्सव मानना चाहिए। याद रहे कि एक वर्ष आप थोड़ा कम मस्ती करके एक ऐसी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं, जिससे आने वाले वर्षों की दिवाली में चार चाँद लग जाएँ, इसलिए अपनी परीक्षा पर अधिक ध्यान दें। ज्यादातर त्यौहार रात में मनाये जाते हैं इसलिए आप दिन में पढ़ाई कर सकते हैं, दिन में पढ़ाई करने की योजना बनायें। यह महत्वपूर्ण है कि आप इस समय को निर्धारित करें कि आप उत्सव से बाहर महसूस न करें।

अध्ययन में निरंतरता और शांत जगह तलाशें  :
किसी भी दिन को ऐसा न जाने दें, जिस दिन आप अध्ययन नहीं करें, अध्ययन में निरंतरता बनायें रखना बहुत आवश्यक है। अपने अध्ययन के लिए एक ऐसी जगह तलाशें जो शोर-शराबे से दूर हो, जहाँ उत्सव की चहल-पहल न हो और कोई आपके अध्ययन में रूकावट न डाल साके। ऐसी जगह में आप चुपचाप शान्ति से अध्ययन कर सकते हैं। अगर आपको घर में समय न मिले और कोई जगह अधययन के लिए न मिल सके तो आप किसी पुस्तकालय में भी जा सकते हैं। समय सारणी को स्टडी टेबल के सामने लगायें जिससे आपकी उस पर नजर पड़े और आप अध्ययन की तरफ ध्यान दे सकें ।

तनाव न लें :
छुट्टियों के दौरान संशोधन करने का मुख्य बिंदु यह है कि चीजों को अपने स्वयं के लिए आसान बनाना है। यदि आपका परिवार उत्सव की योजना बनाने में व्यस्त है तो कुछ समय के लिए रिवीजन करें और अपने परिवार के साथ भी थोड़ा समय बिताएं, अपने अध्ययन को योजनाबद्ध तरीके से करते रहें। खुद के प्रति सख्त रहें। इन सभी के साथ ज्यादा तनाव न लें, क्योंकि ऐसे में आपको अध्ययन करने में समस्या होगी और आप जो पढ़ते हैं उसे भी भूल जायेंगे।

दिवाली ब्रेक अपने आप को रिचार्ज करने का एक अच्छा समय है। परिवार के समारोहों में शामिल होने का यह बहुत अच्छा अवसर है जिसको आप सकारात्मक रूप से ले सकते हैं, दोस्तों के साथ भी आप थोड़ा बहुत वक्त व्यतीत कर सकते हैं, पढ़ने के लिए खुद पर जोर न डालें ऐसे में आपका मन नहीं लगेगा। हां, आपको पढ़ाई या करियर के लिए कुछ काम करने होंगे, लेकिन परिवार और दोस्तों के साथ अच्छा समय बिताने के लिए खुद को दोषी न समझें और खुद को लंबे समय तक अध्ययन करने के लिए मजबूर न करें।

Click here to get free study material for LIC Assistant Exam 2019