सामान्य गलतियाँ जो एस्पिरेंट्स मेन्स परीक्षा में करते हैं

सामान्य गलतियाँ जो एस्पिरेंट्स मेन्स परीक्षा में करते हैं


क्या आप प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं? परीक्षाएं नजदीक हैं, आप अपने प्रदर्शन के बारे में घबराहट महसूस कर रहे होंगे।  IBPS RRB PO परीक्षा और IBPS RRB क्लर्क परीक्षा के मेन्स जल्द ही आ रहे हैं। आईबीपीएस आरआरबी पीओ एडमिट कार्ड जारी हो गया है। IBPS RRB PO 2019 13अक्टूबर 2019 को आयोजित की जाएगी, जबकि IBPS RRB क्लर्क 20 अक्टूबर को आयोजित की जाएगी। मेंस परीक्षा का प्रयास करने के लिए तैयार अभ्यर्थियों को पाठ्यक्रम, परीक्षा पैटर्न और अन्य बुनियादी चीजों का ध्यान रखना चाहिए। किसी भी मेंस परीक्षा में गलतियाँ आपको भारी पड़ सकती हैं। यह सबसे महत्वपूर्ण समय हैं, जिसमें कई बार गलतियां करके उम्मीदवार प्रीलिम्स में उत्तीर्ण होने के बाद भी मेंस में असफल हो जाते हैं। इस समय गलती आपके करियर पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकती है। जाहिर है, IBPS RRB PO मुख्य और IBPS RRB क्लर्क मुख्य परीक्षा 2019 में ज्यादा समय नहीं बचा है, यहां तक कि सबसे छोटी गलती भी आपकी सफलता में रूकावट बन सकती है।
यह लेख विभिन्न प्रतियोगी परीक्षा में उम्मीदवारों की मदद करने के उद्देश्य से लिखा गया है। साथ ही, यदि आप किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो आपको संबंधित परीक्षा के प्रत्येक चरण और अनुभाग का महत्व पता होना चाहिए। परीक्षा के  पैटर्न और सिलेबस के अलावा उम्मीदवारों को उन चीजों को जानना चाहिए जो तैयारी और परीक्षा हॉल के दौरान आपकी मदद कर सकें।
"सफलता आपके पास नहीं आती है। आपको उसके पास जाना होता है।"

मेन्स परीक्षा में उम्मीदवारों द्वारा की जाने वाली गलतियाँ

पिछले वर्षों के पेपर का अभ्यास न करना : यदि आप परीक्षा के प्रति गंभीर हैं, तो आपको परीक्षा के पिछले वर्ष के सभी प्रश्नपत्रों को अच्छी तरह से देख लेना चाहिए। परीक्षा के सभी स्कोरिंग विषयों और पैटर्न को जानना आवश्यक है। यदि आप एक भी कदम चूक जाते हैं तो आप यह लड़ाई हार सकते हैं।

प्लान के बिना तैयारी : बिना किसी रणनीति के मुख्य परीक्षा की तैयारी शुरू करना एक बड़ी गलती है। यह न केवल आपको भ्रमित करेगी बल्कि आपके चयन के अवसरों को भी कम कर देगा।

मॉक टेस्ट न देना : एक उम्मीदवार के लिए यह किसी पाप से कम नहीं है। आम तौर पर उम्मीदवार केवल मॉक टेस्ट दे कर, एक परीक्षा को क्रैक करने के बारे में सोचता है। लेकिन यह सबसे बड़ी गड़बड़ी हो सकती है क्योंकि यह आपके सभी प्रयासों को नष्ट कर सकती है। बार-बार मॉक टेस्ट दें और अपनी स्पीड और एक्यूरेसी की जांच करते रहें।


अख़बार न पढना : अख़बार पढना आपकी नियमित दिनचर्या का एक हिस्सा होना चाहिए। अधिकांश बैंकिंग परीक्षाओं में सामान्य / बैंकिंग जागरूकता अनुभाग होता है जिसे समाचार पत्र के बिना पढ़े मजबूत नहीं किया जा सकता ।

सोशल मीडिया: मेंस परीक्षा के लिए तैयारी कर रहे हैं और अपना समय सोशल मीडिया में बर्बाद कर रहे हैं. ऐसे में आप असफलता को प्राप्त होंगे। सोशल मीडिया में समय की बर्बादी करके आप अपना ही नुकसान कर रहें हैं।

प्रीलिम्स परीक्षा के रिजल्ट की प्रतीक्षा: किसी भी क्षेत्र में अपना करियर बनाने के इच्छुक छात्र, प्रीलिम्स परीक्षा देने के बाद आम तौर पर उसी के रिजल्ट का इंतजार करता है। इस प्रक्रिया में वह मेंस चरण पर ध्यान केंद्रित करना भूल जाते हैं और मेंस की तैयारी शुरू करने में देर कर देते हैं।

रिवीजन: अभ्यास के बिना तैयारी अधूरी है। इसलिए, परीक्षा से पहले सभी महत्वपूर्ण विषयों का अभ्यास करना न भूलें। यह न केवल भ्रम को कम करेगा, बल्कि आपको पेपर को हल करने की बेहतर शक्ति प्रदान करेगा।

निरंतरता : एक परीक्षा, कड़ी मेहनत के साथ नियमित अभ्यास की भी मांग करती है। इसलिए एक रणनीति के साथ नियमित अध्ययन जरुरी है,। पढ़ने और अभ्यास के बिना एक भी दिन न छोड़ें।

प्रेरणा की कमी : किसी भी परीक्षा का मार्ग असं नहीं है, उसके लिए समर्पण करना पढ़ता है, साथ ही बहुत कुछ त्यागना पढता है। समुद्र जैसे विशाल लक्ष्य के लिए नदी को अपने किनारों का मोह त्यागना पड़ता है, वैसे आपको भी बहुत कुछ छोड़ कर अपने लक्ष्य के  लिए संघर्ष करना पड़ेगा तभी सफलता आपके कदम चूमेंगी। जब भी आप यात्रा को रोकने के बारे में सोचते हैं, तो खुद को याद दिलाएं कि आपने यात्रा क्यों शुरू की। खुद को अपडेट रखें और खुद को प्रेरित करते रहें।

आप यह भी पढ़ सकते हैं:
General Awareness capsule for IBPS RRB PO and Clerk mains 2019
Strategy to crack mains