IBPS PO Interview Experience 2017 -1 (Chirag Chauhan)

प्रिय पाठको,



आईबीपीएस पीओ इन दिनों की सबसे अधिक मांग वाली सरकारी-क्षेत्र की नौकरी में से एक है. व्यक्तिगत साक्षात्कार आईबीपीएस पीओ 2017-18 की भर्ती के अंतिम चरण है. साक्षात्कार के अनुभव आपको आईबीपीएस पीओ 2017-18 इंटरव्यू दौर में पूछे जाने वाले कठिनाई स्तर, पर्यावरण और प्रश्नों के प्रकार की जानकारी प्राप्त करने में मदद कर सकते हैं. यहाँ हम आपसे चिराग चौहान का साक्षात्कार का अनुभव साँझा कर रहे है.

दिनांक-30-01-2018
स्थान- देना बैंक, अहमदाबाद
समय-8:30 a.m.

मैं वहां सुबह 8:00 बजे पहुंचा और फिर उन्होंने हमें बैंक के सभागार कक्ष में बुलाया. उन्होंने हमे चाय और नाश्ता दिया.फिर बायोमेट्रिक और दस्तावेज़ सत्यापन की औपचारिकताओं को शुरू किया गया. मेरी औपचारिकता पूरा करने में करीब आधे घंटा लगा. और फिर उन्होंने हमें केबिन में साक्षात्कार के लिए बुलाना शुरू किया. और मैं दरवाजे के बाहर अपनी बारी की प्रतीक्षा करने लगा.

कुछ लोग मुझसे पहले थे, और उनका साक्षात्कार समाप्त होने में 8-10 मिनट लगे. और फिर मेरे साक्षात्कार की बारी थी. मैं थोड़ा आशंकित लेकिन आत्मविश्वास से परिपूर्ण था. इसके बाद मैंने कमरे में प्रवेश किया और इंटरव्यू शुरू हुआ.

वहां पांच सदस्य थे. एक महिला सदस्य और 4 पुरुष सदस्य.

मैंने सभी का गुड मोर्निंग के साथ अभिवादन किया, सबसे पहले मैंने महिला सदस्य का अभिवादन किया फिर पुरुष सदस्यों का, फिर उनसे बैठने के लिए पूछा.

F1: तो कैसे है आप?
Me: बहुत अच्छा हूँ मेम, ध्यन्यवाद .

F1: तो आपने क्या तैयार किया है ?
Me: वर्तमान घटनाओं के बारे में, बैंकिंग के बारे में और मेरी वर्तमान और पिछली नौकरी के बारे में. [ जैसा की मैं निजी क्षेत्र के एक बैंक में क्लर्क के रूप में कार्यरत हूँ, इसलिए मुझे आशा थी कि मुझसे बैंकिंग से सम्बंधित विषयों के बारे में प्रश्न पूछे जायेंगे, परन्तु उन्होंने मुझसे अलग प्रश्न पूछे]

F1: न्यूटन के गति का तीसरा नियम क्या है?
Me: सभी क्रिया समान है और उसकी प्रतिक्रिया होती है. ( मुझे लगा कि वे स्थिति की मेरी प्रतिक्रिया की जांच करना चाहते थे.)

F1: तो आपने इंजीनियरिंग की है, मैं आपसे यह नहीं पूछूंगी कि आपने इंजीनियरिंग के स्थान पर बैंकिंग को क्यों चुना क्योकि सभी लगभग एक ही उत्तर देते है . तो मुझे बताओ और laymen के परिदृश्य में इंस्ट्रुमेंटेशन और कंट्रोल इंजीनियरिंग क्या है.
Me: मैंने अच्छा उत्तर दिया.

F1: आप पहले से ही एक क्लर्क के रूप में बैंक में काम कर रहे हैं, तो आप पीओ क्यों बनना चाहते हैं?
Me: बिल्कुल मैम, मैं एक क्लर्क के रूप में काम कर रहा हूं और मैंने देखा है कि पीओ कैसे काम करते है और मुझे यह बहुत ही आकर्षक लगता है और इसलिए ही मैं पीओ बनाना चाहता हूँ.

फिर उन्होंने  M1 की तरफ देखा साक्षात्कार जारी रखने के लिए...
M1 रैपिड फायर मूड में थे...

M1: बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना कब हुई थी?
Me: 1906.

M1: राष्ट्रीयकरण?
Me: 1969.

M1: मुख्यालय?
Me: मुंबई.

M1:  MD कौन है?
Me: दीनबंधु महापात्र.

M1: BOI की कितनी शाखा है?
Me: 5100.

फिर वह रुक गए और उन्होंने  M2 की ओर देखा

M2: तो, आप बैंक ऑफ इंडिया में क्या काम करते है?
Me: मैंने बताया.

M2: KYC क्या है?
Me: मैंने बताया..

M2: NPA क्या है?
Me: मैंने बताया..

M2:  standard, substandard और doubtfull assets क्या है?
Me: मैंने बताया...

फिर M3 ने प्रश्न पूछने शुरू किये.

M3: विभिन्न वैकल्पिक वितरण चैनल क्या हैं?
Me: मैंने बताया

M3: BHIM App किसने लांच किया?
Me: NPCI.

M3: NPCI का पूर्ण नाम और कब गठित किया गया?
Me: Told.

M3: DICGC के बारे में जानते है?
Me: यह वास्तव में Deposit Insurance and Credit Guarantee Corporation जो एक लाख तक की जमा राशि का बीमा प्रदान करता है.

M3: आप यह क्यों कहा था?
Me: क्योकि नयाFRDI बिल जिसने DICGC को प्रतिस्थापित किया.

M3: हाँ , वह क्या है ?
Me: मैंने बताया.

M3: आपको उस बिल में नई जमानत के बारे में पता होना चाहिए, वह क्या है ?
Me: मैंने बताया, क्योकि मैं जानता था इस बारे में


फिर  M4 ने प्रश्न पूछे

M4: तो बैंक ऑफ इंडिया प्रॉफिट में है? ( यह ट्रिक प्रश्न था )
Me: नहीं सर, एनपीए पिछले कुछ तिमाहियों में बहुत बढ़ गया है. और अभी पीसीए के तहत है.

M4: PCA क्या है?
Me: इसका तात्पर्य prompt corrective action है. और जब भी किसी बैंक एनपीए देता है, तो आरबीआई इन पर पीसीए के दिशानिर्देशों के तहत रख देता है.

M4: तो एनपीए ,पीसीए के एकमात्र मानदंड है?
Me: जी सर. कोई भी बैंक एक तिमाही में 6% शुद्ध एनपीए को पार करता है तो आरबीआई ऐसे कदम उठाता है.

M4:  नहीं, ऐसे कुछ अन्य कारक भी हैं जिन पर भी विचार किया जा रहा है.
Me: माफ़ कीजिये सर मुझे इस बारे में जानकारी नहीं है.

M4:  MCLR से क्या तात्पर्य है?
Me: Told.

M4: तो इसे कैसे कैलकुलेट करते है?
Me: मैंने एक्सप्लेन किया.

M4: जैसा कि आप एक पीओ के रूप में काम करने के बहुत निकट है, आप के अनुसार एक नेता की एक सबसे अधिक गुणवत्ता क्या है?
Me: अगर मुझे एक गुणवत्ता का चयन करना है, तो मैं अभिवृत्ति(Attitude) का चयन करूँगा. अभिवृत्ति सबसे अधिक आवश्यक है, अन्य गुणों का अधिग्रहण किया जा सकता है.

M4: बहुत अच्छे, आल द बेस्ट.
Me: धन्यवाद सर.

फिर मैंने सभी का धन्यवाद किया.

मेरा साक्षात्कार 10-12 मिनट का था परन्तु बहुत अच्छा अनुभव हुआ. Bankesadda ने इसमें मेरी बहुत सहायता की. आप प्रश्नों से इसका अनुमान लगा सकते है . और अब सब सकारात्मक होने की उम्मीद है उम्मीद है. आशा है आपके लिए  यह उपयोगी होगा.


      

Mail your IBPS PO Interview Experience at -contact@bankersadda.com

All the Very Best for IBPS PO Interview.