Tuesday, 18 July 2017

How To Prepare For RRB PO 2017 | RRB PO 2017 के लिए कैसे तैयार करें

How-To-Prepare-For-RRB-PO-2017

प्रिय छात्रों, अब अनौपचारिक अधिसूचना जारी कर दी गयी है, आईबीपीएस जल्द ही एक आधिकारिक सूचना जारी कर रहा है. यहां पर आपकी परीक्षा की तैयारी से संबंधित कुछ युक्तियां दी गई हैं.

सबसे पहले, परीक्षा के पैटर्न में पेश किए गए नए परिवर्तनों और पैटर्न के साथ अपने आप को अद्यतन रखें.


  • IBPS  ने पिछले वर्ष RRB PO  के लिए prelims परीक्षा शुरू की थी और परीक्षा में केवल दो अनिभागो से प्रश्न पूछे गये थे संख्यात्मक अभीयोग्यता और तार्किक क्षमता.
  •  इस वर्ष समान पैटर्न की उम्मीद नहीं की जा सकती है क्योंकि सभी बैंकिंग परीक्षाओं के पैटर्न में इस वर्ष नाटकीय रूप से बदलाव देखे गये  है.
  • IBPS RRB परीक्षा का कठिनाई स्तर बहुत अधिक कभी नहीं रहा है, लेकिन इस वर्ष, नए बदलाव पहले से ही शुरू कर दिए गए हैं और  केवल अन्य सभी बैंक परीक्षाओं का कठिनाई स्तर बड़ा है, आप prelims के साथ साथ mainsपरीक्षा में भी मुश्किल प्रश्नों की अपेक्षा कर सकते हैं.
  •  IBPS ने RRB PO के लिए राज्यवार कट-ऑफ जारी करता है पिछले वर्ष का कट ऑफ अपेक्षाकृत अधिक था, संभवतः 2016 में सबसे ज्यादा, क्योंकि पूछे गए प्रश्नों  का स्तर आसन- मध्यम था.
  • दो भाषा के विषय; अंग्रेजी और हिंदी भाषाहै. यदि हम पिछले वर्ष के बारे में बात करते हैं, तो अंग्रेजी भाषा का चयन करने वाले  ने  उन अभ्यर्थियों की तुलना में जिन्होंने हिंदी भाषा का चयन किया, भाषा अनुभाग में अधिक अंक अर्जित किए,क्यूंकि हिंदी भाषा का स्तर तुलनात्मक रूप से कठिन था. लेकिन यह केवल आप पर निर्भर है यदि आपको लगता है कि आप हिंदी भाषा में बेहतर कर सकते हैं तो केवल हिंदी भाषा का विकल्प चुने. 

  • दूसरा बिंदु, सुनिश्चित करें कि किसी भी महत्वपूर्ण विषय को अस्पृष्ट नहीं छोड़ना चाहिए या किसी भी अवधारणा को अव्यक्त नहीं करना चाहिए.

    यदि किसी भी विषय में आपकी अवधारणाएं स्पष्ट नहीं हैं, तो आप हमारे मुफ्त यूट्यूब वीडियो देख सकते हैं और IBPS RRB PO 2017 के साथ तैयारी कर सकते हैं.
    • हमारे द्वारा कई विषयों पर कई E-books  और अध्ययन नोट उपलब्ध हैं.
    • उन अभ्यर्थियों के लिए भी वीडियो पाठ्यक्रम उपलब्ध हैं जो क्लासरूम प्रोग्राम में शामिल नहीं हो सकते.
    • यदि आप सोचते हैं कि आपकी अवधारणाएं स्पष्ट नहीं हैं और आप उन्हें स्वयं से समझने में सक्षम नहीं हैं, तो आप IBPS कोचिंग क्लासेस के लिए भी आवेदन कर सकते हैं।


    तीसरा बिंदु, एक अध्ययन योजना तैयार करें.

    कॉलेज जाने वाले छात्रों, कामकाजी पेशेवर और पहली बार के प्रयास करने वाले आकंशी, सभी को समय से संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ता है. अपने चरम अध्ययन के समय को उस समय के साथ संतुलित करने के लिए व्यवस्थित करें,जब आप सबसे अधिक जाग और सचेत होते हैं. 
    • एक अध्ययन योजना समय पर लक्ष्य पाठ्यक्रम को पूरा करने में सहायता करती है।
    • आकांक्षी किसी विशेष विषय या विषय को एक निश्चित समय देने के लिए बाध्य है, जिसे आम तौर पर किसी भी योजना या समय सारिणी के बिना तैयार करते समय अनदेखा किया जाता है.

    जैसा कि आपके पास अपनी तैयारी के लिए बहुत अधिक समय नहीं हैं, आपको अपनी रोज़मर्रा के घंटों को अपनी पढ़ाई में समर्पित करना होगा.
    • नियमित अध्ययन तनाव के स्तर को कम करता हैं, क्योंकि विषयों की संख्या में उलझे नहीं, इसलिए आप बेहतर शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के साथ तैयारी करें.
    • विषयों को संशोधित करते रहें यदि आप उन विषयों को संशोधित नहीं करते हैं जिन्हें आपने महीने पहले पढ़ा था, तो आप कुछ भी याद नहीं रख पाएँगे .

    चौथा, टेस्ट सीरीज के साथ अभ्यास करते रहें.

    टेस्ट सीरीज़ के साथ अभ्यास करना आपको मूल परीक्षाओं का अनुभव करने में मदद करता है.
    • आप यह पहचान सकते हैं कि आप किस विषय में अच्छे हैं और आप की कमी कहाँ है
    • IBPS RRB PO के लिए कम्प्यूटर आधारित टेस्ट सीरीज भी आपको अपना समय बचाने में मदद करती है क्योंकि यह असल परीक्षाओं को अनुकरण करते हैं और आपको यह बताती हैं कि एक प्रकार के प्रश्नों का कैसे प्रयास करना है ताकि आप दी गयी समय सीमा में अधिकतम संख्या में प्रश्नों का प्रयास कर सकें.
    यह आपको एक ऑल इंडिया रैंक भी देता है, ताकि आप यह आकलन कर सकें कि आप कहां खड़े हैं और आपको कितना काम करना चाहिए.
    • Adda247 टेस्ट सीरीज में कई प्रश्नों को शामिल किया गया है जो अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों, पिछले साल के प्रश्नों के स्तर से मेल खाते हैं, और RRB Prelims के लिए नए पैटर्न प्रश्नों के साथ-साथ मुख्य परीक्षा भी शामिल हैं.

    पांचवां, दैनिक आधार पर एक समाचार पत्र पढ़े.

    समाचार पत्र पढ़ना भी व्यक्तिगत साक्षात्कार दौर में अच्छे प्रदर्शन के लिए मदद करता है क्योंकि पूछे गए अधिकांश प्रश्न वर्तमान मामलों पर आधारित होते हैं.
    • यदि आप नियमित आधार पर समाचार पत्रों को पढ़ते रहें तो भी आपकी शब्दावली और अंग्रेजी कौशल में सुधार किया जा सकता है.
    • उस खबर पर ध्यान केंद्रित करने से बचें जो परीक्षा के बिंदु से महत्वहीन है
    यदि आपके पास पूरे अखबार को पढने के लिए पर्याप्त समय नहीं है, तो हम आपको एक विकल्प प्रदान करते हैं जो कि हमारी “Daily GK Update” (यह हिंदी और अंग्रेजी दोनों में उपलब्ध है) में है, जिसमें केवल समाचार शामिल हैं जो कि प्रतियोगी परीक्षाओं के बिंदु से महत्वपूर्ण है. 

    छठा, mains परीक्षाओं के लिए तैयार रहे.

    Mains examination is much more difficult as compared to prelims examination.
    Always remember that the gap between prelims and mains examination isn’t sufficient enough to finish the syllabus of Mains Examination.
    If you do not prepare for mains examination from the very beginning, you will not be able to finish all of your preparations within the limited period of time that you get after qualifying for prelims examination.
    If you prepare for the mains examination from the start, you will not only perform well at mains examination but will easily crack the Prelims Examination too (as it will be easier).
    prelims परीक्षा की तुलना में Mains परीक्षा अधिक कठिन है
    • हमेशा याद रखें कि Mains परीक्षा और prelims परीक्षा के बीच का अंतर Mains परीक्षा के पाठ्यक्रम को समाप्त करने के लिए पर्याप्त नहीं है.
    • यदि आप शुरुआत से ही Mainsपरीक्षा की तैयारी नहीं करते हैं, तो आप Mains परीक्षा के लिए योग्यता प्राप्त करने के बाद सीमित अवधि के भीतर अपनी सारी तैयारी पूरी नहीं कर पाएंगे.
    • यदि आप शुरुआत से Mains परीक्षा की तैयारी करते हैं, तो आप केवल Mains परीक्षा में अच्छी तरह से प्रदर्शन नहीं करेंगे, बल्कि prelims परीक्षा को भी आसानी से पास कर लेंगे(क्योंकि यह आसान होगा).


      CRACK IBPS PO 2017



      11000+ (RRB, Clerk, PO) Candidates were selected in IBPS PO 2016 from Career Power Classroom Programs.


      9 out of every 10 candidates selected in IBPS PO last year opted for Adda247 Online Test Series.

      No comments:

      Post a Comment