Thursday, 16 March 2017

Success Story - NIACL AO 2016


नमस्कार दोस्तों मैं अभिषेक कुमार, भुवनेश्वर, ओड़िशा से हूँ. मेरा हाल ही में NIACL AO में चयन हुआ है और मैं अपनी सक्सेस स्टोरी आप लोगो के साथ शेयर करना चाहता हूँ.

मैंने एनआईएसटी बरहमपुर से इलेक्ट्रॉनिक्स और कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग में अपना बीटेक किया है. मैंने अप्रैल 2016 में पास किया है, इसलिए मैं मूल रूप से फ्रेशर हूं. मुझे कैंपस भर्ती अभियान के दौरान, इंफोसिस और कैपिगनी इंडिया के लिए चुना गया था, और मुझे क्रमशः मई और जून के महीने में दोनों कंपनियों में ज्वाइन करना था.


लेकिन आईटी वो क्षेत्र नहीं था, जिसमे मैं जॉब करना चाहता था. तो, मैंने अपने माता-पिता को बताया कि मैं बैंकिंग और बीमा में अपना कैरियर बनाना चाहता हूं और इसलिए, मैंने दोनों नौकरियों की पेशकश को अस्वीकार कर दिया और जून के महीने से मैंने तैयारी शुरू कर दी. 

2 नौकरियां छोड़ने का फैसला आसान नहीं था. मेरे पास दो अवसर थे पर वो मेरे लिए सबकुछ नहीं थे. मैं जानता था कि जॉब के साथ एग्जाम की तैयारी करना बेहद मुश्किल काम होगा और मेरे पास कोई दूसरा रास्ता भी नहीं था. मैं बैंक या बीमा क्षेत्र में काम करना चाहता हूं आईटी में नहीं; मेरे लगभग सभी दोस्तों ने मेरे इस फैसले का विरोध किया. लेकिन फिर भी यह मेरी पसंद थी और इसके लिए मैंने अपने परिवार से आवश्यक समर्थन प्राप्त किया !

मैंने अपनी तैयारी आगामी एसबीआई पीओ-2016 परीक्षाओं की तैयारी करने वाली वेबसाईट से शुरू की. मैंने प्रारंभिक परीक्षा पास कर ली, और अंग्रेजी, क्वांट एवं रीज़निंग में कट ऑफ से लगभग दोगुने अंक प्राप्त किये, लेकिन सामान्य जागरूकता में मैं 2 अंकों से चूक गया. यह बेहद निराशाजनक क्षण था. यह बताने के लिए एक बहुत अच्छी कहानी होगी कि पीओ की लिखित परीक्षा को पहले ही प्रयास में पास करना पर मेरे पास अलग कहानी है!

तब तक, मैंने bankersadda के बारे में नही सुना था. यह मुख्य धारा में असफल रहने का कारण ही था कि, मैंने नए तरीके और तैयारी के साधन तलाशने शुरू कर दिए और फिर मुझे bankersadda के बारे में पता चला. तब से, मैंने विशेष रूप से अपने सामान्य जागरूकता भाग में बहुत कठिन परिश्रम करना शुरू किया.

इन परीक्षाओं के बारे में मुख्य बात यह है कि, आपको अपने क्वांट, रीजनिंग और अंग्रेजी को मजबूत करने के लिए पूरे समर्पण के साथ 3-6 महीने देना चाहिए. एक बार जब आप ऐसा कर लेते हैं, तो आपको वास्तव में इस भाग की अध्याय अनुसार तैयारी करने की आवश्यकता नहीं है. जो आपका कमजोर विषय है, उसके लिए नियमित आधार पर मोक टेस्ट की प्रैक्टिस, परीक्षा पास करने के लिए पर्याप्त अभ्यास है. इसके बाद आप सभी को वास्तव में सामान्य जागरूकता भाग के लिए कठिन परिश्रम करने की ज़रूरत है. मुझे लगता है कि यही सही स्ट्रैटजी है.

अगली परीक्षा जो मैंने पास की वह बॉब पीओ (BoB PO) थी. मैंने लिखित परीक्षा की अच्छे से तैयारो की, पास किया और साक्षात्कार की तैयारी शुरू कर दी. इस दौरान, मैंने BoM, IBPS, IPPB और NIACL की परीक्षाएं दी. मेरा बैंक ऑफ बड़ौदा में चयन हो गया था और दिसंबर, 2016 से शुरू होने वाले पहले बैच में मुझे शामिल होना था; लेकिन फिर से, मैंने उस नौकरी को नहीं करने का निर्णय किया (क्योकि इसमें 9 महीने का कोर्स था, जोकि BoM द्वारा bhi ऑफर किया गया था जिसकी परीक्षा मैंने पास की थी. यदि कुछ नहीं होता तो, तो मैं इसे ज्वाइन कर लेता). मैं आईबीपीएस पर ध्यान केन्द्रित करना चाहता था इसलिए BoB छोड़ने का कठिन निर्णय लिया.

इसके बाद, मुझे BoM के लिए साक्षात्कार देना था. अफसोस की बात है, जब मैं साक्षात्कार के लिए गया, मुझे सूचित किया गया था कि मेरी मार्कशीट से संबंधित किसी मुद्दे के कारण पद के लिए योग्य नहीं माना गया था, और इसलिए मुझे बिना साक्षात्कार के वापस भेजा दिया गया.

यह एक अत्यंत निराशाजनक क्षण था. मैंने 3 नौकरी ऑफर छोड़े थे. मुझे घर पर 6 महीने हो चुके थे, मैं इस साक्षात्कार पर भरोसा कर रहा था क्योंकि आईबीपीएस की प्रक्रिया बहुत समय लगाती  है, और फिर मुझे साक्षात्कार के बिना वापस भेजा गया था.

इसके तुरंत बाद, मेरा आईबीपीएस पीओ का साक्षात्कार हुआ. मैं सचमुच डरा हुआ था, उस दिन मैं साक्षात्कार देने वाला पहला उम्मीदवार था, इसलिए मुझे पूरा विश्वास नहीं था. लेकिन मुझे लगता है कि मैंने ठीक से प्रदर्शन किया और मैं अपने साक्षात्कार से बहुत संतुष्ट था. 

इसके बाद, मुझे एनआईएसीएल का साक्षात्कार था. मैंने इसे अपना सबसे अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन मैं अपने प्रदर्शन से पूरी तरह संतुष्ट नहीं था, और मुझे ज्यादा उम्मीदें नहीं थी. जैसा कि मैं प्रतीक्षा कर रहा था आईबीपीएस पीओ के परिणामों की प्रतीक्षा कर रहा था, तभी एनआईएसीएल के परिणाम घोषित किए गए और मैंने इसे पास कर लिया. 

यह मेरे और मेरे परिवार के लिए बहुत गर्व का क्षण था. यह मेरे माता-पिता के लिए आसान नहीं था क्योकि उन्हें बहुत से लोगों को जवाब देना था कि उनका लड़का घर बैठ क्या कर रहा है जबकि उसके बेटे की उम्र के लड़के अपना-अपना काम कर रहे है. मुझे लगता है कि अंततः मैं इसके लायक था!!
मुझे bankersadda को अपनी सफलता का श्रेय देना है, उनका एप, वेबसाइट और यूट्यूब चैनल पर उपलब्ध पर्याप्त मात्रा में सामग्री बहुत उपयोगी है, यह हर छात्र के लिए उपयोगी है जो इन परीक्षाओं को पास करना चाहता है. और मैं सभी उम्मीदवारों से आग्रह करता हूं कि वे इसका पूरा उपयोग करें और अच्छे से करें.

ज़िन्दगी के सभी फैसले आसान नहीं होते. उनमें से कुछ फैसले आपके सामने यह प्रश्न जरुर उठाएंगे कि "क्या यह ऐसा कुछ है जो मुझे वाकई इतनी बुरी तरह से करना चाहिए कि मैं सब कुछ पीछे छोड़ने को तैयार हूं?" जब लोग आप पर उँगलियाँ उठायें तो अपना दिल छोटा न करें, अपने हर निर्णय का सम्मान करें, स्वयं पर विश्वास बनाये रखें. केवल और केवल आपको ही अपने निर्णयों के साथ जीना है. वही लोग जो आप पर ऊँगली उठाते थे या हँसते थे, वे ही आपकी सफलता के बाद आपकी तारीफों के पुल बांधेगे.

अतः, बड़ी समझदारी से अपने लक्ष्य का चुनाव करें और अपने एवं अपने लक्ष्य के बीच किसी और को न आने दें.

धन्यवाद !


CRACK SBI PO 2017



More than 250 Candidates were selected in SBI PO 2016 from Career Power Classroom Programs.


9 out of every 10 candidates selected in SBI PO last year opted for Adda247 Online Test Series.

No comments:

Post a Comment